गांधी परिवार की सुरक्षा में होगी कटौती, SPG की बजाय मिलेगा जेड प्लस कवर

गांधी परिवार की सुरक्षा में होगी कटौती, SPG की बजाय मिलेगा जेड प्लस कवर

मोदी सरकार ने गांधी परिवार (Gandhi Family) की सुरक्षा में कटौती करने का फैसला किया है। न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक, गृह मंत्रालय ने गांधी परिवार (सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा और राहुल गांधी) से स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) की सुरक्षा वापस ले ली है। गृह मंत्रालय का कहना है कि एसपीजी सुरक्षा (SPG Protection) हटाए जाने के बाद गांधी परिवार को जेड प्लस (Z Plus) की सुरक्षा कवर दी जाएगी। अब उन्हें केंद्रीय सुरक्षा बल (सीआरपीएफ) का सुरक्षा कवर मिलेगा।

गौरतलब है कि बीते अगस्त महीने में गृह मंत्रालय ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की एसपीजी सुरक्षा वापस लेकर उन्हें भी जेड प्लस श्रेणी के अंतर्गत रखा गया था। उस समय गृह मंत्रालय की ओर से कहा गया था कि सुरक्षा कवर की समीक्षा के आधार पर यह निर्णय लिया गया है। यह समीक्षा सुरक्षा एजेंसियों की ओर से संभावित खतरे को देखते हुए की जाती है।


इंदिरा गांधी की हत्या के बाद बनाई गई थी एसपीजी

बता दें, 1984 में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की उनके सुरक्षा गार्डों द्वारा हत्या करने के बाद पीएम की सुरक्षा के लिए साल 1985 में एसपीजी की स्थापना की गई थी। साल 1991 में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या के बाद एसपीजी एक्ट में संशोधन किया गया और इसमें पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिवार को अगले 10 साल तक एसपीजी सुरक्षा देने का प्रावधान किया गया।

हालाँकि, साल 2003 में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार ने इस कानून में संशोधन किया गया और दस साल की सीमा को घटाकर एक साल कर दिया गया। इसके साथ ही यह भी प्रावधान किया गया कि खतरे को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार सुरक्षा की समय सीमा तय करेगी।


क्या है एसपीजी (SPG) सुरक्षा, क्यों है सबसे अलग और स्पेशल है यह दस्ता, जानें यहाँ

पूर्व PM मनमोहन सिंह की सुरक्षा में कटौती, SPG की बजाय मिलेगा जेड प्लस कवर

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)