मोदी ने थाई उद्यमियों को भारत में निवेश का न्योता दिया

 बैंकॉक, 3 नवंबर (आईएएनएस)| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार थाई उद्यमियों को आसान व्यापार के लिए भारत में निवेश करने के लिए आमंत्रित किया।

 उन्होंने कहा कि भारत ने अब पुराने, नौकरशाही के तरीके से काम करना बंद कर दिया है। आदित्य बिड़ला समूह की वैश्विक उपस्थिति के 50 वर्षो को चिह्न्ति करने के लिए एक समारोह को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि भारत उन सभी उद्यमों पर गर्व करता है, जिसने जोखिम उठाया है और वैश्विक स्तर पर खुद को प्रतिष्ठित किया है।


मोदी ने आगे यह भी कहा कि वह भारत में हो रहे कुछ सकारात्मक बदलावों की छवि को प्रस्तुत करने के लिए उत्सुक थे।

मोदी ने कहा, “भारत ने पिछले पांच वर्षो में विभिन्न क्षेत्रों में कई सफल कहानियां देखी हैं। इसका कारण सिर्फ सरकारें नहीं हैं। भारत ने एक पुराने, नौकरशाही के तरीके से काम करना बंद कर दिया है।”

उन्होंने आगे कहा, “आपको जानकर हैरानी होगी कि सालों से गरीबों पर धन खर्च किया जा रहा है, लेकिन वास्तव में ये पैसे गरीबों तक पहुंचे ही नहीं हैं। हमारी सरकार ने डीबीटी के जरिए इस प्रथा को खत्म किया। डीबीटी का तात्पर्य प्रत्यक्ष लाभ अंतरण से है। डीबीटी ने बिचौलियों और प्रभावहीनता की संस्कृति को समाप्त कर दिया है।”


कराधान का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह एक ऐसा क्षेत्र है, जहां भारत ने उल्लेखनीय कार्य किया है। उन्होंने कहा, “मुझे इस बात से खुशी है कि भारत लोगों के लिए कर व्यवस्थाओं की दृष्टि से सबसे अधिक अनुकूल क्षेत्रों में से एक है। हम इसे और अधिक बेहतर बनाने की दिशा में प्रतिबद्ध हैं। आज के भारत में, करदाताओं के योगदान को सराहा जाता है।”

मोदी ने भारत को निवेश के लिए सबसे आकर्षक अर्थव्यवस्था बताया। उन्होंने कहा, “निवेश और आसान व्यवसाय के लिए भारत आएं। शुरुआत करने के लिए भारत आएं। कुछ बेहतरीन पर्यटन स्थलों का अनुभव पाने और गर्मजोशी के साथ लोगों के आतिथ्य को पाने के लिए भारत आएं। भारत बाहें फैलाकार आपका इंतजार कर रहा है।”

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)

You May Like