मुनाफावसूली के दबाव में टूटे सेंसेक्स, निफ्टी (साप्ताहिक समीक्षा)

नई दिल्ली, 26 अक्टूबर (आईएएनएस)| भारतीय शेयर बाजार में मुनाफावसूली हावी होने के कारण इस सप्ताह विकवाली का दबाव बना रहा, जिससे प्रमुख संवेदी सूचकांकों में पिछले सप्ताह के मुकाबले गिरावट दर्ज की गई। हालांकि उतार-चढ़ाव के बीच सेंसेक्स 39,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर के ऊपर रहा। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सप्ताह के मुकाबले 240.32 अंकों यानी 0.61 फीसदी की गिरावट के साथ 39,058.06 पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी पिछले सप्ताह के मुकाबले 77.95 अंकों यानी 0.67 फीसदी की गिरावट के साथ 11,583.90 पर बंद हुआ।

बीएसई मिड-कैप सूचकांक 78.49 अंकों यानी 0.54 फीसदी की गिरावट के साथ 14,341.76 पर रहा, जबकि बीएसई स्मॉल-कैप सूचकांक 26.23 अंकों यानी 0.20 फीसदी की बढ़त के साथ 13,153.06 पर बंद हुआ।


सप्ताह के आरंभ में सोमवार को महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होने के कारण शेयर बाजार में कारोबार बंद रहा। अगले दिन मंगलवार को लगातार छह सत्रों की तेजी के बाद मुनाफावसूली के कारण घरेलू शेयर बाजार में विकवाली का दबाव बढ़ा, जिससे सेंसेक्स 334.54 अंक यानी 0.85 फीसदी टूट कर 38,963.84 पर बंद हुआ। निफ्टी भी 71.95 अंकों यानी 0.62 फीसदी की गिरावट के साथ 11,589.90 पर बंद हुआ।

हालांकि इस कारोबारी सप्ताह के दूसरे सत्र में बुधवार को उतार-चढ़ाव के बीच सेंसेक्स 94.99 अंकों यानी 0.24 फीसदी की बढ़त के साथ 39,058.83 पर बंद हुआ और निफ्टी भी 15.75 अंकों यानी 0.14 फीसदी की बढ़त के साथ 11,604.10 पर बंद हुआ।

अगले दिन गुरुवार को फिर कारोबार नरम रहा और सेंसेक्स 38.44 अंकों यानी 0.10 फीसदी की गिरावट के साथ 39,020.39 पर रहा, जबकि निफ्टी 21.50 अंकों यानी 0.19 फीसदी की गिरावट के साथ 11,582.60 पर बंद हुआ।


कारोबारी सप्ताह के आखिरी सत्र में शुक्रवार को उतार-चढ़ाव के बीच फिर प्रमुख संवेदी सूचकांकों में सुधार हुआ। सेंसेक्स 37.67 अंकों यानी 0.10 फीसदी की बढ़त के साथ 39,058.06 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी महज 1.30 अंकों यानी 0.01 फीसदी की बढ़त के साथ 11,583.90 पर ठहरा।

 

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)

You May Like