दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर सफर हुआ महंगा, अब दुगुना देना होगा टोल

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर सफर हुआ महंगा, अब दुगुना देना होगा टोल

1 नवंबर से देश में कई नियम-कानूनों में हुए बदलाव लागू होने जा रहे हैं। आज से दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे (Delhi-Meerut Expressway) पर वाहन चालकों को दोगुना टोल (Toll Tax) चुकाना पड़ेगा।  एनएचएआई ने उद्घाटन के एक माह के अंदर ही टोल दर दोगुना करने का निर्णय लिया है। पिलखुवा टोल प्लाजा पर बढ़ी दर वसूली जाएगी। इसका भार करीब 40 हजार वाहन चालकों पर पड़ेगा।

बता दें,  सड़क एवं परिवहन मंत्रालय की ओर से तय की गई टोल की नई दरें एक नवंबर से 31 मार्च 2020 तक लागू रहेंगी। एनएचएआई ने डासना टोल प्लाजा बंद करने और पिलखुवा में छिजारसी टोल प्लाजा शुरू होने पर टोल की दरों पर इजाफा किया था। ऐसे में तीन माह में दूसरी बार टोल की बढ़ी दरें लोगों की परेशानी बढ़ाएंगी। किसान संगठनों ने टोल में वृद्धि के फैसले का विरोध करने का ऐलान किया है।


गौरतलब है कि कार, जीप, वैन और हल्के वाहन के लिए टोल टैक्स पहले एक तरफ के लिए 70 रुपये और दोनों तरफ के लिए 105 रुपये लगते थे। वहीं अब एक तरफ के लिए टोल टैक्स बढ़कर 125 रुपये और दोनों तरफ के लिए 200 रुपये कर दिया गया है। मासिक पास की बात करें तो हल्के और निजी वाहनों के लिए पहले 2290 रुपये लगते थे, जबकि अब इसे बढ़ाकर 4095 रुपया कर दिया गया है।

वहीं हल्के व्यावसायिक वाहन व मिनी बस को अब तक एक तरफ से 110 रुपये, दोनों तरफ से 165 रुपये और मासिक पास 3695 रुपये देने होते थे। जबकि अब एक तरफ से 200 रुपये, दोनों तरफ से 300 रुपये और मासिक पास के 6615 रुपये भरने होंगे। बस व ट्रकों को एक तरफ से 230 रुपये, दोनों ओर से 350 रुपये और मासिक पास के लिए 7745 देने होते थे। अब एक तरफ से 415 रुपये, दोनों तरफ से 625 रुपये और मासिक पास के लिए 13860 रुपये देने होंगे।

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर अब कितनी चुकानी होंगी टोल दरें

वाहन टोल


पहले (एक तरफ/दोनों तरफ) – अब (एक तरफ/दोनों तरफ)

मासिक पास

पहले/अब

कार, जीप, वैन और हल्के वाहन 70/105 – 125/200 2290/4095
हल्के व्यावसायिक वाहन, सामान ढोने वाले हल्के वाहन और मिनी बस 110/165 – 200/300 3695/6615
बस और ट्रक 230/350 – 415/625 7745/13860
व्यावसायिक वाहनों (थ्री एक्सल) 255/380 – 455/680 8450/15118
भारी मशीन और भारी वाहन 365/545 – 650/980 12145/21630

यूपी में 300 किसानों पर पराली जलाने के लिए मामला दर्ज, सड़कों पर उतरे किसान

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)