निर्भया कांड: मौत के फंदे से बचने को आज सुप्रीम कोर्ट की शरण में पहुंच सकते हैं 3 दोषी

राम मंदिर निर्माण के लिए 3 माह में ट्रस्ट बनाए सरकार: सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली। तिहाड़ जेल प्रशासन से मिले नोटिस से हड़बड़ाए निर्भया कांड के 4 मुजरिमों में से 3 आज (सोमवार) सुप्रीम कोर्ट की देहरी पर पहुंच सकते हैं। यह तीनों मुजरिम पवन कुमार गुप्ता (मंडोली जेल में बंद), विनय कुमार शर्मा और अक्षय कुमार सिंह हैं। विनय और अक्षय दोनो तिहाड़ जेल में बंद हैं।

उल्लेखनीय है कि, तिहाड़ जेल प्रशासन ने 28-29 अक्टूबर को चारों (चौथे मुजरिम मुकेश की आगे की रणनीति का फिलहाल खुलासा नहीं हुआ है) को नोटिस दिया था। नोटिस में कहा था कि, अगर वे चाहें तो राष्ट्रपति के यहां दया याचिका दाखिल कर सकते हैं। उनके पास इस कदम के लिए सिर्फ 7 दिन बचे हैं।


निर्भया कांड : ‘फांसी-माफी’ के लिए राष्ट्रपति से पहले, सुप्रीम कोर्ट जाएंगे मुजरिम

इसके बाद से ही चारों मुजरिमों की दिल की धड़कनें बढ़ गईं। शनिवार को आईएएनएस से विशेष बातचीत में पवन, अक्षय और विनय के वकील अजय प्रकाश सिंह ने कहा भी था कि वो सोमवार को अक्षय के मामले में पुनर्विचार याचिका दाखिल कर सकते हैं। जबकि बाकी दोनों-पवन और विनय को फांसी के फंदे से बचाने के लिए क्यूरेटिव पिटीशन दाखिल करेंगे।


निर्भया कांड : हत्यारे राष्ट्रपति के यहां दया याचिका भेजें, वरना ‘फांसी’ पर लटकने की तैयारी करें

7 साल बाद फिर क्यों सुर्खियों में आया निर्भया गैंगरेप का केस


(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)