प्याज पर निर्मला सीतारमण के बयान से भड़के लोग, सोशल मीडिया पर हो रही खिंचाई

  • Follow Newsd Hindi On  
Economic Survey 2020: अगले 5 साल में 4 करोड़ नौकरियां होंगी पैदा, चीन जैसी रणनीति पर चलेगा भारत

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को लोकसभा में प्याज के ऊपर एक बयान दिया। लोकसभा में प्याज की आसमान छूती कीमतों को कम करने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी देते हुए निर्मला सीतारमण ने मजाकिया लहजे में कहा कि प्याज की बढ़ती कीमतों से व्यक्तिगत तौर पर उनपर कोई खास असर नहीं पड़ा है, क्योंकि उनका परिवार प्याज-लहसुन जैसी चीजों को खास पसंद नहीं करता है।

एमएमटीसी ने फिर दिया 4000 टन प्याज आयात का ठेका, 15000 टन के टेंडर जारी

लोकसभा में एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले समेत कुछ सदस्यों ने प्याज के बढ़ते दाम का मुद्दा उठाया था। इसका जवाब देते हुए सीतारमण ने कहा, ‘मैं बहुत ज्यादा प्याज-लहसुन नहीं खाती…इसलिये चिंता न करें। मैं ऐसे परिवार से आती हूं, जिसे प्याज की कोई खास परवाह नहीं है।’ वित्त मंत्री की इस बात पर कुछ सांसद हंस पड़े। लेकिन प्याज़ को लेकर वित्त मंत्री का ये बयान लोगों को रास नहीं आया और उनकी हरतरफ आलोचना हो रही है। सीतारमण के बयान से भड़के लोगों ने सोशल मीडिया पर उनकी खिंचाई कर दी है। लोग #SayItLikeNirmalaTai ट्रेंड करवा रहे हैं। कुछ यूजर्स ने कहा कि जैसे आप प्याज़ नहीं खातीं ,वैसे ही आप गरीब भी नहीं हैं इसलिए आपको गरीबी से कोई फर्क नहीं पड़ता।



Punster नामक एक यूजर ने लिखा, “निर्मला को इकॉनमी की कोई चिंता नहीं क्योंकि वे इकॉनमी क्लास में यात्रा नहीं करतीं।”

गौरव पंधी ने लिखा, “मैडम, लोगकह रहे हैं कि आपका दिमाग खराब हो गया है। निर्मला- मेरे पास दिमाग है ही नहीं, मुझे फर्क नहीं पड़ता।”

Batty लिखते हैं, “मोदी जी को माइनॉरिटीज की चिंता नहीं है क्योंकि वह मेजॉरिटी से जीतकर आए हैं।”

PresidentVerde ने कहा, “मोदी जी की मास्टर डिग्री के बारे में पूछना बंद करो। वह अभी तक बैचलर हैं।”

आबसार लिखते हैं, “पुलिस: हेलमेट जरूरी है, ये दुर्घटना होने पर आपको ब्रेन हैमरेज से बचाता है। निर्मला: मेरे पास दिमाग नहीं है, इसलिए मुझे कोई चिंता नहीं है।”

संघमित्रा लिखती हैं, “एक वित्त मंत्री अपने मूर्खतापूर्ण बयान के लिए ट्रोल हो रही हैं। वह मोदी कैबिनेट के सबसे ज्यादा पढ़े-लिखे मंत्रियों में से एक हैं। आप कैसे सोच सकते हैं कि वह अर्थव्यवस्था को संभाल पाएंगी? क्या यह और भयावह हो सकता है?

विपक्ष ने भी प्याज के बढ़ते दामों के लेकर सरकार पर हमले तेज कर दिए हैं। कांग्रेस प्रवक्ता राधिका खेड़ा ने निर्मला के बयान पर तंज कसते हुए कहा, ‘मोदी जी फकीर हैं तो क्या पूरा देश ही घर परिवार छोड़ कर फकीर बन जाए?’ उन्होंने अपने ट्वीट में वित्त मंत्री की ओर से दिए गए बयान का वीडियो भी शेयर किया है।

गौरतलब है कि देश में प्याज़ की बढ़ती कीमतों से आम आदमी की जेब पर जबरदस्त भार बढ़ गया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार ने देश में प्याज की कीमतों को नियंत्रित करने के लिये कई कदम उठाये हैं जिनमें इसके भंडारण से जुड़े ढांचागत मुद्दों का समाधान निकालने के उपाय शामिल हैं। उन्होंने कहा कि खेती के रकबे में कमी आई है और उत्पादन में भी गिरावट दर्ज की गई है लेकिन सरकार उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिये कदम उठा रही है।


रिपोर्ट: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा- मार्च तक बिक जाएंगी एयर इंडिया और भारत पेट्रोलियम

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)