Nobel Prize 2019 : चिकित्सा क्षेत्र के साथ आज से शुरू होगी 2019 के नोबेल पुरस्कारों की घोषणा

Nobel Prize 2019 : चिकित्सा क्षेत्र के साथ आज से शुरू होगी 2019 के नोबेल पुरस्कारों की घोषणा

दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कारों में से एक नोबेल पुरस्कार के साल 2019 के पुरस्कारों का ऐलान आज से शुरू हो रहा है। पुरस्कार की शुरूआत चिकित्सा के नोबेल विजेता के ऐलान के साथ किया जाएगा। इसके बाद 14 अक्टूबर तक 6 क्षेत्रों में विजेताओं के नाम घोषित होंगे। स्वीडिश अकादमी 2018 और 2019 दोनों ही वर्षों के लिए साहित्य के नोबेल पुरस्कारों का ऐलान करेगी। पिछले साल उभरे यौन उत्पीड़न के मामले की वजह से 2018 के साहित्य नोबेल की घोषणा को अकादमी ने स्थगित कर दिया था।

चिकित्सा के नोबेल पुरस्कार से जुड़े तथ्य

– 1901 से 2018 के बीच चिकित्सा के क्षेत्र में 109 नोबेल पुरस्कार दिए गए, 216 लोगों को यह प्रदान किया गया।


– मेडिसिन के क्षेत्र में 12 महिलाओं को नोबेल दिया गया है, 2009 में यह दो महिलाओं को एक साथ प्रदान किया गया।

– फ्रेडरिक जी. बैंटिंग (32) मेडिसिन के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार पाने वाले सबसे युवा, उन्हें इन्सुलिन की खोज के लिए 1923 में यह पुरस्कार मिला।

– पेटोन राउस (87) सबसे उम्रदराज नोबेल पुरस्कार विजेता हैं, उन्हें ट्यूमर इंड्यूसिंग वायरस की खोज के लिए 1966 में यह पुरस्कार दिया गया।


सबसे पहले घोषित होगा चिकित्सा का नोबेल

इस साल के नोबेल पुरस्कारों की घोषणा आज से शुरू होगी। सबसे पहले चिकित्सा क्षेत्र के नोबेल पुरस्कार की घोषणा होगी। 8 को भौतिकी, 9 को रसायन, 10 को साहित्य और 11 को शांति के नोबल पुरस्कार का एलान किया जाएगा। सबसे आखिर में 14 अक्टूबर को अर्थशास्त्र के नोबेल विजेता के नाम का एलान किया जाएगा।

इस बार साहित्य के दो नोबेल

इस साल साहित्य के दो नोबेल पुरस्कार दिए जाएंगे। पिछले साल सेक्स स्कैंडल और वित्तीय अनियमितताओं के कारण साहित्य पुरस्कार का ऐलान नहीं किया गया था। इससे स्वीडिश अकादमी की छवि खराब हुई थी। 70 वर्षो में यह पहला मौका था जब साहित्य का नोबेल नहीं दिया गया। स्कैंडल सामने आने के बाद अकादमी के 18 सदस्यों में से 7 ने इस्तीफा दे दिया था।

शांति के नोबेल के लिए 301 उम्मीदवार, जलवायु एक्टिविस्ट ग्रेटा थन्बर्ग मजबूत दावेदार

2019 के शांंति का नोबेल पुरस्कार की घोषणा 11 अक्टूबर को की जाएगी। The Nobel Prize के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल ने ट्वीट कर बताया कि 2019 के नोबेल शांति पुरस्कार के लिए कुल 301 उम्मीदवार मैदान में हैं। 301 उम्मीदवारों में 223 व्यक्तिगत और 78 संस्थान शामिल हैं। 16 वर्षीय स्वीडिश जलवायु एक्टिविस्ट ग्रेटा थन्बर्ग को इस पुरस्कार के लिए प्रबल दावेदार माना जा रहा है। उन्होंने जलवायु को बचाने के लिए एक वैश्विक आंदोलन को प्रेरित किया था। अगर उन्हें नोबेल दिया जाता है तो वो नोबेल पुरस्कार पाने वाली सबसे कम उम्र की विजेता बन जाएगी। इससे पहले, हाल ही में उन्हें वैकल्पिक नोबेल पुरस्कार भी प्रदान किया गया था।

नोबेल पुरस्कार में क्या मिलता है?

नोबेल पुरस्कार के हर विजेता को करीब साढ़े चार करोड़ रुपए की राशि दी जाती है। इसके साथ 23 कैरेट सोने से बना 200 ग्राम का पदक और प्रशस्ति पत्र भी दिया जाता है। पदक के एक ओर नोबेल पुरस्कार के जनक अल्फ्रेड नोबेल की छवि, उनके जन्म तथा मृत्यु की तारीख लिखी होती है। पदक की दूसरी तरफ यूनानी देवी आइसिस का चित्र, रॉयल एकेडमी ऑफ साइंस स्टॉकहोम तथा पुरस्कार पाने वाले व्यक्ति की जानकारी होती है।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)