नोएडा : नाले की सफाई के दौरान तरबूज के छिलके में मिला पांच महीने का कन्या भ्रूण

हमारे समाज में आज भी लड़कियों को खुले दिल से अपनाने में कई लोग हिचकते हैं। शायद यही कारण है कि लोग आज भी लड़कों को लड़कियों से ज्यादा तरजीह देते हैं। अगर बात करें उत्तर प्रदेश की तो यहां पहले से ही लिंगानुपात की स्थिति बेहतर नहीं है। ऐसे में नोएडा का ताजा मामला प्रशासन की आँखें खोलने के लिए काफी है। आपको बता दें कि, नोएडा में एक सफाई कर्मचारी को एक नाले से पांच महीने का कन्या भ्रूण मिला है।

क्या है पूरा मामला?

ये दिल दहला देने वाली घटना सेक्टर 93 के पास गेझा गांव की है। थाना फेस-दो क्षेत्र के गेझा में  सफाईकर्मियों को सफाई करते समय पांच महीने का भ्रूण मिला। इसे तरबूज के छिलके में छिपाकर फेंका गया था।


थाने के प्रभारी फरमूद अली ने बताया कि सोमवार सुबह गेझा में सफाईकर्मी रविन्द्र उर्फ कल्लू सफाई कर रहा था, तब उसे एक मकान के पास बड़े तरबूज के छिलके में छिपाकर रखा गया पांच महीने का भ्रूण मिला।

पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। उन्होंने बताया कि पुलिस यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि उक्त भ्रूण के माता-पिता कौन हैं। सरकार द्वारा गैरकानूनी गर्भापात को रोकने के लिए कई उपाय किए जा रहे हैं लेकिन फिर भी इस तरह के मामले आ रहे हैं जो निश्चित तौर पर चिंताजनक हैं।

गौरतलब है कि भारत में गर्भपात गैरकानूनी है लेकिन 20 सप्ताह से कम के गर्भ को मेडिकल शर्तों के हिसाब से समाप्त किया जा सकता है। कुछ ऐसे भी मामले हैं, जिनमें विशेष परिस्थितियों में अदालतों ने 20 सप्ताह से ऊपर का गर्भ समाप्त किए जाने का आदेश दिया है।


यूपी में लिंगानुपात की स्थिति बेहद खराब

उत्तर प्रदेश राज्य लिंगानुपात खराब स्थिति में है। यहां लिंगानुपात प्रति एक हजार लड़कों पर 902 लड़कियों का है। इसी वजह से मुखबिर योजना के जरिए गैरकानूनी गर्भपात को रोकने की कोशिश भी की जा रही है। इसमें जानकारी देने वालों को पैसे भी दिए जाते हैं।

हाल ही में योगी सरकार ने कन्या भ्रूण हत्या, असमान लिंगानुपात जैसी सामाजिक बुराईयों को दूर करने के उद्देश्य से कई योजनाएं चलाई हैं। प्रदेश सरकार ने  ‘कन्या सुमंगला’ योजना प्रारंभ की है जो बालिकाओं के लिए एक बेहतर स्कीम मानी जा रही है। इस योजना को कई भागों में बाटा गया हैं जिसके तहत लगभग 15 हजार रुपये बालिका को मिलेंगे।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)