राजस्थान में गहराया राजनीतिक संकट, कांग्रेस ने सचिन पायलट को उपमुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाया

  • Follow Newsd Hindi On  
राजस्थान में गहराया राजनीतिक संकट, कांग्रेस ने सचिन पायलट को उपमुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाया

राजस्थान में उपजे सियासी संकट (Rajasthan Political Crisis) के बीच बड़ी खबर सामने आ रही है। सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के खिलाफ खुली बगावत करने वाले सचिन पायलट (Sachin Pilot) को डेप्युटी सीएम और प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष पद से हटाया गया है। इसके अलावा विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को भी मंत्रिमंडल से बर्खास्त किया गया है। ये दोनों मंत्री पायलट खेमे के हैं। मंगलवार को कांग्रेस विधायक दल की बैठक में ये फैसले लिए गए हैं।

बीजेपी ने रची सरकार गिराने की साजिश

कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने पूर्ण बहुमत से चुनी गई कांग्रेस सरकार को गिराने की साजिश की है। धन और सत्ता बल से, ईडी और इनकम टैक्स के जरिए दबाव बनाकर सरकार को अस्थिर करने की कोशिशें की गई। उन्होंने कहा कि कांग्रेस विधायकों को खरीदने की कोशिश की जा रही थी। सचिन पायलट दिग्भ्रमित होकर, भाजपा के षड्यंत्र के जाल में उलझ कर कांग्रेस सरकार को गिराने की साजिश में शामिल हो गए।


सचिन पायलट को मनाने के लिए किए गए प्रयास

सुरजेवाला ने बताया कि पिछले 72 घंटे में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने राहुल गांधी के माध्यम से सचिन पायलट और अन्य मंत्रियों और विधायकों से संपर्क करने की कोशिश की। केसी वेणुगोपाल ने कई बार बात की। प्रयास किए गए कि वो वापस आएं, उनके लिए दरवाजो खुले हैं। कोई मतभेद है तो बैठकर सुलझाएंगे। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि सचिन पायलट और उनके साथी मंत्री सरकार गिराने की साजिश कर रहे हैं। यह स्वीकार्य नहीं है। इसलिए बड़े दुखी मन से कुछ कठोर निर्णय लिए गए हैं।

गोविंद सिंह डोटासरा बने पीसीसी अध्यक्ष

इसके बाद सुरजेवाला ने राजस्थान पीसीसी के नए अध्यक्ष के नाम की घोषणा भी की। उन्होंने प्रदेश के शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा को नया अध्यक्ष बनाने की घोषणा की। वहीं हेम सिंह शेखावत को राजस्थान प्रदेश सेवा दल का नया अध्यक्ष नियुक्त करने के साथ गणेश गोगरा को यूथ कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने की बात कही गई है।

‘सचिन पायलट को प्रताड़ित किया जा रहा’

इस बीच सचिन पायलट खेमे से भी एक बयान सामने आया है। दीपेंद्र सिंह, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा ने बयान जारी करके आरोप लगाया है कि सचिन पायलट को प्रताड़ित किया जा रहा है। सचिन पायलट और हमें एसओजी के जरिए नोटिस भिजवाकर बार-बार प्रताड़ित किया जा रहा है।



राजस्थान: 2 नोटिस की कहानी, जिसके चलते सचिन पायलट विद्रोह पर उतरे

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)