Sharad Arvind Bobde: एस.ए. बोबडे, देश के अगले चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया, जानें इनके बारे में

Sharad Arvind Bobde: एस.ए. बोबडे, देश के अगले चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया, जानें इनके बारे में

जस्टिस शरद अरविंद बोबडे (Sharad Arvind Bobde) सुप्रीम कोर्ट के अगले मुख्य न्यायाधीश (CJI) होंगे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उनके नाम पर मंजूरी दे दी है। जस्टिस बोबडे वर्तमान चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की जगह 18 नवंबर को लेंगे। बोबडे के 18 नवंबर को प्रधान न्यायाधीश के रूप में शपथ लेंगे, उनका कार्यकाल 18 महीना होगा। गौरतलब है कि देश के मौजूदा मुख्य न्यायाधीश (CJI) रंजन गोगोई का कार्यकाल अपनी समाप्ति की ओर बढ़ रहा है। CJI रंजन गोगोई का कार्यकाल 17 नंवबर, 2019 को समाप्त हो रहा है।

कौन हैं शरद अरविंद बोबडे


महाराष्ट्र से आने वाले शरद अरविंद बोबडे का जन्म 24 अप्रैल, 1956 को नागपुर में हुआ था। उनके पिता अरविंद श्रीनिवास बोबडे महाराष्ट्र के एडवोकेट जनरल रह चुके हैं। शरद अरविंद ने नागपुर विश्वविद्यालय से बी.ए. और एल.एल.बी की डिग्री ली है। मौजूदा समय में वो सुप्रीम कोर्ट के दूसरे वरिष्ठतम जज हैं। शरद अरविंद बोबडे अपर न्यायाधीश के रूप में 29 मार्च, 2000 को बॉम्बे हाई कोर्ट की खंडपीठ का हिस्सा बने। 16 अक्टूबर, 2012 को मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली। 12 अप्रैल, 2013 को भारत के सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया। उनका कार्यकाल 23 अप्रैल, 2021 में खत्म होने जा रहा है।

वकालत से परिवार का रहा है रिश्ता

शरद अरविंद बोबडे के परिवार का वकालत से लंबा रिश्ता रहा है। इनके पिता अरविंद श्रीनिवास बोबडे वकील थे और महाराष्ट्र के एडवोकेट जनरल रह चुके है। उनके दिवंगत भाई भी सुप्रीम कोर्ट के सीनियर वकील और संवैधानिक मामलों के जानकार रह चुके हैं।


(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)