समर्थन के मुद्दे पर जजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी फैसला लेगी : दुष्यंत (लीड-1)

 नई दिल्ली, 25 अक्टूबर (आईएएनएस)| जननायक जनता पार्टी (जजपा) प्रमुख दुष्यंत चौटाला ने शुक्रवार को कांग्रेस या भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को समर्थन देने को लेकर विकल्प खुले रखे हैं।

  यहां 21 अक्टूबर को हुए विधानसभा चुनाव में 10 सीटें जीतकर हरियाणा की राजनीति में उन्होंने खुद को ‘किंगमेकर’ की स्थिति में ला खड़ा किया है। दुष्यंत ने राष्ट्रीय राजधानी में एक मीडिया ब्रीफिंग में कहा, “एक स्थिर सरकार के लिए, चाबी अभी भी जजपा के पास ही है।”


उन्होंने कहा कि जजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी यह फैसला करेगी कि किसे समर्थन करना है।

वहीं 40 सीट प्राप्त करने वाली भाजपा आठ निर्दलीय विधायकों के समर्थन से सरकार बनाने के लिए तैयार है।

उन्होंने कहा, “हमार लिए कोई भी अछूत नहीं है। हमने अभी यह निर्णय नहीं लिया है कि किसको समर्थन देना है।”


दुष्यंत ने कहा, “मैं फैसला लेने की जिम्मेदारी अपने विधायकों पर छोड़ता हूं।”

आठ निर्दलीय विधायकों ने मनोहर लाल खट्टर की अगुवाई में भाजपा को बिना शर्त समर्थन देने की बात कही है। हालांकि पार्टी नेतृत्व दुष्यंत चौटाला नीत जननायक जनता पार्टी को अपने पाले में लाना चाहता है।

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)

You May Like