सोनभद्र हत्याकांड: पीड़ित परिवारों को 10 लाख रुपए मुआवजा देगी कांग्रेस, प्रियंका बोंली- मेरा मकसद पूरा हुआ

सोनभद्र हत्याकांड: पीड़ित परिवारों को 10 लाख रुपए मुआवजा देगी कांग्रेस, प्रियंका बोंली- मेरा मकसद पूरा हुआ

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में हुए गोलीकांड में मारे गए दस लोगों के परिवार के सदस्यों से मिलने की जिद पर अड़ीं कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से पीड़ित परिवार के सदस्यों ने चुनार किला के गेस्ट हाउस में आकर मुलाकात की। पीड़ित परिवारों से मिलने के बाद प्रियंका ने कहा कि मेरा मकसद पूरा हुआ। इस दौरान प्रियंका ने कहा कि कांग्रेस पीड़ित परिवारों को 10 लाख रुपए मुआवजा देगी।

सोनभद्र जनसंहार : 32 ट्रैक्टरों पर सवार 200 लोगों ने की थी गोलीबारी


बता दें कि शुक्रवार को मिर्जापुर जिला प्रशासन ने सोनभद्र जाते समय प्रियंका गांधी को हिरासत में ले लिया था। प्रियंका सोनभद्र में हुए नरसंहार के पीड़ितों से मिलने उनके गांव जा रही थीं। इसके बाद उन्हें चुनार किला के गेस्ट हाउस में लाकर रखा गया, जहाँ वह कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ करीब 24 घंटे रहीं और पीड़ित परिवारों से मिलने की जिद पर अड़ी रहीं।

सोनभद्र बना भ्रष्टाचार का अड्डा, नौकरशाहों ने आदिवासियों को छला

इसके बाद शनिवार दोपहर को चुनार गेस्ट हाउस के बाहर प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ कांग्रेस के नेताओं के धरना के बीच में ही गेस्ट हाउस में पीड़ित परिवार को लाया गया। इनमें चार महिलाओं के साथ एक पुरुष भी हैं। इन सभी ने प्रियंका गांधी से भेंट की है। प्रियंका ने इनसे सोनभद्र कांड के बारे में जानकारी ली। चुनार गेस्ट हाउस के बगीचे में पीड़ित परिवार की महिलाओं ने प्रियंका गांधी को देखते ही रोना शुरू कर दिया। इस दौरान प्रियंका भावुक हो गईं। उन्होंने महिलाओं से बातचीत की और उन्हें पानी पीने के लिए कहा।


इससे पहले प्रियंका गांधी ने एक वीडियो साझा करते हुए ट्वीट करके योगी सरकार पर निशाना साधा। प्रियंका ने कहा, “क्या इन आसुओं को पोंछना अपराध है?”

उन्होंने कहा, “राहुल गांधी ने मुझे पीड़ित परिवारों से मिलने को कहा था। वो मेरे नेता हैं और उनके निर्देश पर मैं यहां आई हूं।”

प्रियंका गांधी ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा, “योगी सरकार संवेदनहीन है। मैं पीड़ितों के आंसू पोछने आयी हूं। इसे अनावश्यक रूप से राजनीतिक रंग दिया जा रहा है।”


सोनभद्र नरसंहार पर बोले CM योगी- घटना के लिए कांग्रेस जिम्मेदार, 1955 में ही पड़ चुकी थी इसकी नींव

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)