तबरेज अंसारी लिंचिंग केस: रांची हाईकोर्ट ने खारिज की मुख्य आरोपी पप्पू मंडल की बेल अर्जी

  • Follow Newsd Hindi On  
तबरेज अंसारी लिंचिंग केस: रांची हाईकोर्ट ने खारिज की मुख्य आरोपी पप्पू मंडल की बेल अर्जी

रांची हाईकोर्ट ने आज तबरेज अंसारी लिंचिंग केस (Tabrez Ansari Lynching Case) के मुख्य आरोपी प्रकाश मंडल उर्फ पप्पू मंडल की बेल अर्जी को खारिज कर दिया है। गौरतलब है कि तबरेज अंसारी की 17 जून को भीड़ ने बाइक चोरी के शक में बुरी तरह पिटाई की थी। तबरेज़ की बाद में 22 जून को अस्पताल में मौत हो गई थी। तबरेज अंसारी की मौत के मामले में पुलिस ने 11 लोगों को जेल भेजा था। वहीं काम में लापरवाही बरतने को लेकर दो पुलिस अधिकारियों को भी निलंबित किया गया था।

इससे पहले 10 दिसंबर को तबरेज अंसारी मॉब लिचिंग मामले में जेल में बंद 6 आरोपियों को रांची हाईकोर्ट ने जमानत दी थी।


जून में पीट-पीटकर हुई थी हत्या

झारखंड के सरायकेला जिले में कदमडीह गांव के मोहम्मद तबरेज अंसारी के साथ 18 जून को तबरेज अंसारी अपने दोस्तों के साथ कहीं जा रहे थे। उसी दौरान कुछ लोगों ने उन्हें मोटरसाइकिल चुराने के आरोप में पकड़ लिया था। इसके बाद भीड़ ने उनकी बेरहमी से पिटाई की साथ ही उन्हें ‘जय श्रीराम’ और ‘जय हनुमान’ बोलने के लिए भी मजबूर किया। बाद में इस घटना का एक वीडियो भी वायरल हुआ था। वहीं पुलिस को मामले की जानकारी मिलने के बाद उसने अंसारी को गिरफ्तार कर लिया था। गिरफ्तारी के चार दिन बाद जब उनकी हालत बिगड़ने लगी तो पुलिस ने उन्हें एक अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उनकी मौत हो गई थी।

11 आरोपियों को जेल, 2 अधिकारी सस्पेंड

मामले में पुलिस ने 11 लोगों को गिरफ्तार किया था। जिनमें भीमसेन मंडल, प्रेमचंद महली, कमल महतो, सोनामो प्रधान, सत्यनारायण नायक, सोनाराम महली, चामू नायक, मदन नायक, महेश महली और सुमंत महतो शामिल थे। साथ ही खरसांवा थानेदार चंद्रमोहन उरांव और थाना प्रभारी विपिन बिहारी सिंह को सस्पेंड कर दिया गया था।


(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)