उबर को दूसरी तिमाही में 5.2 अरब डॉलर का घाटा

सैन फ्रांसिस्को, 9 अगस्त (आईएएनएस)| मई में कंपनी के आईपीओ (आरंभिक सार्वजनिक निर्गम) को मिली फीकी प्रतिक्रिया के बाद राइड मुहैया करानेवाली वैश्विक दिग्गज उबर ने दूसरी तिमाही में 5.2 अरब डॉलर का घाटा दर्ज किया है, जो कंपनी के इतिहास का सबसे बड़ा घाटा है।

कंपनी ने इस घाटे के आधे हिस्से का जिम्मेदार आईपीओ के बाद कर्मचारियों को दिए गए स्टॉक मुआवजा और इससे जुड़े खर्चो को ठहराया है।


उबर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी दारा खोसरोशाही ने एक बयान में कहा, “हमारे प्लेटफार्म की रणनीति लगातार मजबूत नतीजे देने की रही है। समीक्षाधीन तिमाही में, स्थिर मुद्रा में पिछले साल की दूसरी तिमाही की तुलना में ट्रिप्स में 35 फीसदी और बुकिंग में 37 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है।”

जुलाई में, प्लेटफार्म ने पहली बार 10 करोड़ से ज्यादा मासिक सक्रिय प्लेटफार्म ग्राहक के आंकड़े तक पहुंचने में कामयाबी हासिल की।

उबर के मुख्य वित्तीय अधिकारी नेल्शन चाई ने कहा, “हम विकास में लगातार निवेश करते रहेंगे। हम अच्छी विकास दर चाहते हैं और इस तिमाही में हमने इस दिशा में अच्छी प्रगति की है।”


 

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)