Union Budget 2019: जानिए बजट में क्या हुआ सस्ता और क्या हुआ महंगा!

Union Budget 2019: बजट में कृषि को गति मिलने की उम्मीद, इन योजनाओं में हो सकता है सुधार

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट 2019-20 पेश कर दिया है। उन्‍होंने भाषण की शुरुआत मंजूर हाशमी के शेर से की। यह शेर था- यकीन हो तो कोई रास्ता निकलता है, हवा की ओट भी ले कर चिराग जलता है। वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लगभग दो घंटे 10 मिनट तक बजट भाषण पढ़ा। माना जा रहा है कि इसमें समाज के हर हिस्से के लिए कुछ ना कुछ अहम घोषणाएं  हैं। इन घोषणाओं में वन नेशन वन ग्रिड, ज्ञान स्कीम, नई एजुकेशन पॉलिसी, प्रधानमंत्री कर्मयोगी मानधन और स्टडी इन इंडिया जैसी योजनाएं प्रमुख हैं।

आइए जानते हैं इस बजट में आम लोगों के लिए क्या सस्ता और क्या महंगा हुआ है…..


क्या हुआ महंगा?

  • पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 1 रुपया बढ़ा दी गई है, जिससे दोनों के दामों में 1 रुपए की वृद्धि हो गयी है
  • सोने पर कस्टम ड्यूटी 10 से बढ़ाकर 12.5 फीसदी कर दी गई
  • एटीएम से पैसा निकालना
  • पेमेंट ऐप इस्तेमाल करना महंगा
  • मेक इन इंडिया को प्रमोट करने के लिए कुछ प्रॉडक्ट्स पर कस्टम ड्यूटी में किया जाएगा इजाफा
  • तंबाकू, सिगरेट, बीड़ी, गुटखा, पान मसाला

ऑप्टिकल फाइबर, स्‍टेनलेस उत्‍पाद, मूल धातु के फ‍िटिंग्‍स, फ्रेम और सामान, एसी, लाउडस्‍पीकर, वीडियो रिकॉर्डर, सीसीटीवी कैमरा, वाहन के हॉर्न, तेल रसायन और साबुन बनाने में उपयोग करने के ल‍िए जैतून ऐसटिरिन और अन्‍य तेल जिसमें 20 प्रतिशत या इससे अधिक वसायुक्‍त अम्‍ल हो, बुटाइल रबर, अखबारी कागलज, वॉल टाइलें, पॉवर एडेप्‍टर, विंकस्‍क्रीन वाइपर्स, ऑटोमोबाइल के लैम्‍प और बीम लाइट, घर्षण सामग्री, मोटर वाहनों में इस्‍तेमाल किए जाने वाले ताले महंगे हुए हैं।

ये भी पढ़ें :Budget 2019: वित्त मंत्री का ऐलान- इनकम टैक्स भरने के लिए PAN कार्ड जरूरी नहीं, आधार कार्ड से भी भर सकेंगे


क्या हुआ सस्ता?

  • इलेक्ट्रिक कार खरीदना
  • डिफेंस उपकरण इंपोर्ट पर कस्टम ड्यूटी हटी
  • चुनिंदा इलेक्ट्रॉनिक आइटम पर कस्टम ड्यूटी हटी
  •  होम लोन

साबुन, शैंपू, बालों का तेल, टूथपेस्‍ट, डेटरजेंट, बिजली का घरेलू सामान जैसे पंखे, लैम्‍प, ब्रीफ केस, यात्री बैग, सेनिटरी वेयर, बोतल, कंटेनर, रसोई में प्रयुक्‍त सामान जैसे बर्तन, गद्दा, बिस्‍तर, चश्‍मों के फ्रेम, बांस का फर्नीचर, पास्‍ता, मयोनेज, धूपबत्‍ती, नमकीन, सूखा नारियल, सैनिटरी नैपकिन। ऊन और ऊनी धागे, खाद्य वस्‍तुएं जैसे चॉकलेट, वैफर्स, कस्‍टर्ड पाउडर, संगीत के उपकरण, ग्‍लासवेयर, पॉट, कुकर, चूल्‍हा, लाइटर, प्रिंटर, मैग्‍नीशियम ऑक्‍साइट की परत वालं ठंडा रोल्‍ड इस्‍पात की कॉयल, गर्म रोल्‍ड कॉयल, ठंडा रोल्‍ड फूल हार्ड, कोबाल्‍ट धातु और कोबाल्‍ट धातु के अन्‍य मध्‍यवर्ती उत्‍पाद, ऊनी वस्‍त्र सस्‍ते।

ये भी पढ़ें : Budget 2019 : पेट्रोल-डीज़ल होगा महंगा, जानें क्या है बजट का आपकी जेब पर असर

ITR के लिए पैन कार्ड ज़रूरी नहीं

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले बजट को पेश करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि अब पैन कार्ड को इनकम टैक्स भरने के लिए ज़रूरी डॉक्युमेंट्स की लिस्ट से बाहर कर दिया गया है। सिर्फ आधार के जरिए भी इनकम टैक्स भी चुकाया जा सकेगा। इसके अलावा 400 करोड़ से ज्यादा टर्नओवर वाली कंपनियों पर 25% कॉर्पोरेट टैक्स भी लगाया गया है। अब कॉर्पोरेट टैक्स के दायरे में महज 0.7 पर्सेंट कंपनियां ही आएंगी। सस्ते घरों के लिए इनकम टैक्स के लिए ब्याज पर मिलेगी 3.5 लाख रुपये की छूट भी दी गई है।

बीमा में 100% FDI
इस बजट में इंश्योरें कंपनियों को लेकर बड़ा एलान हुआ है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इंश्योरेंस में एफडीआई (विदेशी निवेश) की सीमा बढ़ाकर 100 फीसदी करने का प्रस्ताव दिया है। वहीं, मीडिया में एफडीआई सीमा बढ़ाने की योजना है। इसके अलावा एनिमेशन कंपनियों में विदेशी निवेश सीमा बढ़ाने का ऐलान किया है। साथ ही, छोटे उद्योगों को कर्ज के ब्याज पर 2 फीसदी की छूट देने का ऐलान किया है। सरकारी कंपनियों की ज़मीनों पर सस्ते घर बनेंगे।

ये भी पढ़ें : Budget 2019 : जानें महिला वित्त मंत्री के पिटारे से महिलाओं को क्या मिला!

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)