UP Budget Live Updates: योगी कैबिनेट ने दी बजट को मंजूरी, युवाओं व श्रमिकों पर फोकस करेगी सरकार, ये घोषणाएं संभव

  • Follow Newsd Hindi On  
Uttar Pradesh: किरायेदारी विनिमय अध्यादेश को मंजूरी, अब सालाना 7 प्रतिशत ही बढ़ेगा किराया

UP Budget Live Updates: चुनावी वर्ष में किसानों, महिलाओं, युवाओं व श्रमिकों को केंद्र में रखेगी योगी सरकार(Yogi Sarkar), डीए(DA) की होगी बहालीउत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government of Uttar Pradesh)  आज अपना पांचवा बजट (Fifth budget) पेश करेगी।

इस बजट में सरकार के पास 2022 विधानसभा चुनाव (2022 Assembly Election) से पहले किसानों, युवाओं, महिलाओं व श्रमिकों के साथ सभी क्षेत्रों को साधने का यह आखिरी मौका होगा। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना (Finance Minister Suresh Khanna) 11 बजे विधानसभा में वित्त वर्ष 2021-22 के लिए बजट पेश करेंगे।


वित्त मंत्री (Finance Minister) ने कोविड-19 महामारी का दबाव झेल रही अर्थव्यवस्था और लंबे किसान आंदोलन की गूंज के बीच बजट तैयार किया है। इसके अलावा युवाओं को लैपटाप व किसानों को ब्याजमुक्त फसली ऋण जैसे बड़े बजट खर्च वाले कई चुनावी वादे अभी अधूरे हैं। किसान और युवा इसके पूरे होने का इंतजार कर रहे हैं। चुनाव में सर्वाधिक अहम भूमिका निभाने वाले इस वर्ग की उम्मीदों को सरकार किसी न किसी रूप में पंख लगा सकती है।

12:01 PM, 22-FEB-2021 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बजट को लोकल्याणकारी, समावेशी और विकासोन्मुख बताया। उन्होंने कहा कि किसी भी राज्य के पहले पेपर लेस बजट के लिए मंत्री सुरेश खन्ना और उनकी टीम को बधाई देता हूं। शानदार बजट है इसके लिए बधाई। हर घर को नल, बिजली, हर गांव को सड़क व डिजिटल बनाने व हर खेत को पानी व हर हाथ को काम देने के उद्देश्य से निहित है। यह बजट हर तबके के लिए है. उत्तर प्रदेश के नवनिर्माण की कल्पना भी बजट में निहित है। प्रदेशवाशियो को बजट के लिए बधाई देता हूं।

12:01 PM, 22-FEB-2021/ बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के लिए बजट
बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के लिए 1492 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। वित्त मंत्री ने पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के लिए 1107 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। गोरखपुर एक्सप्रेस वे के लिए 750 करोड़ रुपये का बजट पेश किया।


11:58 AM, 22-FEB-2021/हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज बनाने का लक्ष्य है
योगी सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए अब तक का सबसे बड़ा 5 लाख 50 हजार 270 करोड़ 78 लाख रुपये का बजट पेश किया। इसके तहत हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज बनाने का लक्ष्य है। 16 जिलों में मेडिकल कॉलेज बन रहे हैं। मेडिकल शिक्षा के लिए एक हजार करोड प्रस्तावित किए गए हैं।

10:22 AM, 22-FEB-2021/ कैबिनेट बैठक में वित्त वर्ष 2021-22 बजट को मंजूरी दी गई

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में सुबह साढ़े नौ बजे बुलाई गई बैठक खत्म हुई। बैठक में वित्त वर्ष 2021-22 के आय-व्यय (बजट) को मंजूरी दी गई।

10:14 AM, 22-FEB-2021/ मुफ्त वैक्सीन, कामगारों के लिए दुर्घटना बीमा का एलान संभव

– कोविड वैक्सीनेशन के बीच केंद्र सरकार के मुफ्त वैक्सीन की सुविधा से छूटे लोगों के लिए राज्य सरकार अपने बजट से मुफ्त वैक्सीन उलब्ध कराने का एलान कर सकती है।

– महामारी के दौरान असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों की बड़ी समस्या सामने आई थी। करीब एक करोड़ श्रमिकों वाले इस वर्ग को साधने के लिए सरकार दुर्घटना बीमा योजना का एलान कर सकती है।

09:02 AM, 22-FEB-2021/ यूपी में बहाल होगी विधायक निधि

चुनावी वर्ष में प्रदेश सरकार विधायक निधि बहाल करेगी। सूत्रों के मुताबिक सरकार ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए विधायक निधि को सैद्धांतिक सहमति दे दी है। सरकार की हरी झंडी के बाद ग्राम्य विकास विभाग ने जीएसटी सहित तीन करोड़ रुपये विधायक निधि देने का प्रस्ताव सरकार को दिया है। सूत्रों के मुताबिक सरकार बजट सत्र में इसकी घोषणा कर सकती है। गौरतलब है कि कोरोना काल में सरकार ने वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए विधायक निधि पर रोक लगा दी थी।

उधर, विभाग के अधिकारी ने बताया कि विधायक चाहते हैं कि रोकी गई विधायक निधि को भी अगले वित्तीय वर्ष में जारी कर दिया जाए या विधायक निधि बढ़ाकर 5 करोड़ कर दिया जाए। उनका तर्क है कि चुनावी वर्ष में रुके पड़े विकास कार्य शुरू कराकर जनता से किया गया वादा पूरा कर भरोसा जीत सकें।

09:54 AM, 22-FEB-2021/ पहला पेपरलेस बजट प्रस्तुत करेंगे: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में सोमवार सुबह साढ़े नौ बजे से प्रदेश मंत्रिपरिषद (कैबिनेट) की बैठक चल रही है। मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पर होने वाली इस बैठक में वित्त वर्ष 2021-22 के आय-व्यय (बजट) व इससे जुड़े विनियोग विधेयक तथा भूतपूर्व सैनिकों को समूह ‘ख’ की नौकरियों में आरक्षण से संबंधित विधेयक के मसौदे को भी मंजूरी मिल सकती है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रेरणा से आज उत्तर प्रदेश सरकार अपना प्रथम पेपरलेस बजट प्रस्तुत करेगी।

जानकारी के मुताबिक कोरोना काल के बाद कैबिनेट की यह पहली बैठक है, जिसमें समस्त कैबिनेट मंत्रियों व प्रस्ताव से जुड़े राज्यमंत्रियों (स्वतंत्र प्रभार) को प्रत्यक्ष रूप से बुलाया गया है। इसके पूर्व प्रस्ताव से जुड़े मंत्री बैठक में शामिल होते थे जबकि अन्य मंत्री वर्चुअल तरीके से जुड़ते थे।

09:54 AM, 22-FEB-2021/ पहला पेपरलेस बजट प्रस्तुत करेंगे: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में सोमवार सुबह साढ़े नौ बजे से प्रदेश मंत्रिपरिषद (कैबिनेट) की बैठक चल रही है। मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पर होने वाली इस बैठक में वित्त वर्ष 2021-22 के आय-व्यय (बजट) व इससे जुड़े विनियोग विधेयक तथा भूतपूर्व सैनिकों को समूह ‘ख’ की नौकरियों में आरक्षण से संबंधित विधेयक के मसौदे को भी मंजूरी मिल सकती है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रेरणा से आज उत्तर प्रदेश सरकार अपना प्रथम पेपरलेस बजट प्रस्तुत करेगी।

जानकारी के मुताबिक कोरोना काल के बाद कैबिनेट की यह पहली बैठक है, जिसमें समस्त कैबिनेट मंत्रियों व प्रस्ताव से जुड़े राज्यमंत्रियों (स्वतंत्र प्रभार) को प्रत्यक्ष रूप से बुलाया गया है। इसके पूर्व प्रस्ताव से जुड़े मंत्री बैठक में शामिल होते थे जबकि अन्य मंत्री वर्चुअल तरीके से जुड़ते थे।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)