‘केयरटेकर’ की नौकरी और सैलरी 93 लाख, जानें कैसे

'केयरटेकर' की नौकरी और सैलरी 93 लाख, जानें कैसे

केयरटेकर की नौकरी करके आप 93 लाख की सैलरी पा सकते हैं। जी हां! ये बिलकुल सच है। लाइटहाउस की देखभाल के लिए 2 लोगों की जरूरत है जिन्हें 1,30,000 डॉलर की सैलरी दी जाएगी। 1,30,000 डॉलर 91 लाख 62 हजार भारतीय रुपए के बराबर होते हैं। हालांकि केयरटेकर की ये वैकेंसी भारत नहीं बल्कि अमेरिका के कैलिफोर्निया के लिए है।

CNN की रिपोर्ट के मुताबिक ईस्ट ब्रदर लाइट स्टेशन सैन पाब्लो खाड़ी में स्थित लाइटहाउस के लिए केयरटेकर की जरूरत है। ये लाइटहाउस साल 1874 में बनाया गया था। फिलहाल अमेरिकी तटरक्षक बल इस लाइटहाउस का मालिक है और इसका देखभाल गैर-लाभकारी समूह ईस्ट ब्रदर लाइटहाउस करता है।


हालांकि इस लाइटहाउस की देखभाल के लिए उम्मीदवारों के पास कुछ योग्यता भी होनी चाहिए। ईस्ट ब्रदर की वेबसाइट के मुताबिक केयरटेकिंग का काम करने के लिए आवेदन करने वाले कैंडिडेट को हॉस्पिटेलिटी इंडस्ट्री का अनुभव होना भी जरूरी है। इसके अलावा उम्मीदवार के पास अमेरिकी कोस्ट गार्ड कमर्शियल बोट ऑपरेटर लाइसेंस भी होना चाहिए।

कैलिफोर्निया के रिचमंड के रहने वाले मेयर टॉम बट्ट ने CNN को बताया, ‘मैंने इस पर चालीस साल काम किया है। शुरुआत में इसे छोड़ दिया गया था। हमने इसकी देखरेख के लिए राजस्व प्राप्त करने का तरीका ढूंढ़ा।’ बट्ट लाइट हाउस को चलाने वाली गैर लाभकारी संस्था के चीफ हैं। इसके बेड और ब्रेकफास्ट से मिले राजस्व का इस्तेमाल इस ऐतिहासिक इमारत के रखरखाव और मरम्मत में किया जाता है।


(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)