VIDEO: कोलकाता में अमित शाह के रोड शो में भिड़े BJP-TMC समर्थक, हुई आगजनी और पत्थरबाजी

VIDEO: कोलकाता में अमित शाह के रोड शो में भिड़े BJP-TMC समर्थक, हुई आगजनी और पत्थरबाजी

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में मंगलवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) के रोड शो के दौरान जमकर हंगामा हुआ। बीजेपी और टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प के बाद आगजनी और पत्थरबाजी की घटनाएं भी हुईं। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि कोलकाता में कॉलेज स्ट्रीट पर बीजेपी चीफअमित शाह (Amit Shah) के रोड शो का काफिला गुजरने के दौरान कुछ तृणमूल समर्थकों ने काले झंडे दिखाए, जिसे लेकर बीजेपी के कार्यकर्ताओं के साथ टकराव हुआ। इसके बाद दोनों ओर से पत्थरबाज़ी भी हुई और लाठी-डंडे भी चले। पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज किया और आंसू गैस छोड़े। इस दौरान कुछ लोग घायल भी हुए हैं।

ज्ञात हो कि आगामी 19 मई को लोकसभा चुनावों के सातवें और अंतिम चरण से पहले बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के समर्थन में कोलकाता में रोड शो किया। रोड शो शाम 4:30 बजे कोलकाता के एस्प्लेनेड इलाके से शुरू हुआ और उत्तरी कोलकाता में स्वामी विवेकानंद भवन पर जाकर खत्म हुआ। शाह उत्तरी कोलकाता से भाजपा उम्मीदवार राहुल सिन्हा और दक्षिणी कोलकाता से पार्टी उम्मीदवार चंद्र कुमार बोस के साथ एक रथनुमा ट्रक पर खड़े होकर सड़क के दोनों तरफ मौजूद लोगों की भीड़ का अभिवादन कर रहे थे।


भाजपा अध्यक्ष के काफिले के आगे राज्य और देश के विभिन्न हिस्सों की संस्कृतियों को प्रदर्शित करती झांकी चल रही थी। भाजपा के झंडे लहराते हुए पार्टी के समर्थकों को ‘जय श्री राम’, ‘नरेंद्र मोदी जिंदाबाद’ और ‘अमित शाह जिंदाबाद’ के नारे लगाते सुना गया। रोड शो में भगवान राम और हनुमान की तरह सजे-धजे लोग भी देखे गए।

बता दें कि आज अमित शाह की तीन जगह रैलियां होने वाली थीं। लेकिन जाधवपुर में उन्हें रैली की अनुमति नहीं मिली न ही उनका हेलीकॉप्टर उतरने दिया गया। कोलकाता में रोड शो से पहले भी बीजेपी के पोस्टर और बैनर हटा दिए गए थे जिससे बीजेपी नेता भड़क गए थे। पश्चिम बंगाल के जॉय नगर में रैली करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा,”23 तारीख को बंगाल में 23 से ज्यादा सीटें भाजपा जीतने जा रही है। बंगाल और देश की जनता मोदीजी को प्रधानमंत्री देखना चाहती है। मेरी ममताजी को सलाह है कि गुस्सा बढ़ाने से बीपी बढ़ जाता है और ऐसा करना इस उम्र में ठीक नहीं है। इसे बंद कर दें। कहीं पर भी हमने विपक्ष के साथ ऐसा व्यवहार नहीं किया।”

आपको बता दें कि आखिरी चरण के चुनाव में 8 राज्यों की 59 संसदीय सीटों के लिए मतदान होना है। इसमें पश्चिम बंगाल की मथुरापुर, डायमंड हार्बर, जाधवपुर, कोलकाता दक्षिण, कोलकाता उत्तर, दमदम, बारासात, बशीरहाट, जयनगर की सीटें भी शामिल हैं। यह सभी सीटें बीजेपी के लिहाज से काफी अहम मानी जा रही हैं।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)