World Population Day 2019: जनसंख्या नियंत्रित करने के लिए जरूरी है इन मुद्दों पर ध्यान देना, जानें क्या है इस साल का थीम

World Population Day 2019: जनसंख्या नियंत्रित करने के लिए जरूरी है इन मुद्दों पर ध्यान देना, जानें क्या है इस साल का थीम

विश्व की बढ़ती जनसंख्या एक गंभीर समस्या है। इस के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए ही हर साल 11 जुलाई को ‘विश्व जनसंख्या दिवस’ (World Population Day) मनाया जाता है।

किन क्षेत्रों में काम करने की है जरूरत?

विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रमों द्वारा दुनिया भर में परिवार नियोजन, बाल विवाह, लैंगिक समानता, मानवाधिकार और मातृत्व स्वास्थ्य के बारे में जागरूकता फैलाई जाती है। इस दिन को मनाने की शुरुआत संयुक्त राष्ट्र संघ (United Nations) द्वारा वर्ष 1989 में की गई थी। तब से ही हर साल 11 जुलाई को दुनिया भर में यह दिन मनाया जाता है।


क्यों मनाया जाता है विश्व जनसंख्या दिवस?

सभी इस बात से परिचित हैं कि दुनिया की जनसंख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है और सबसे गंभीर स्थिति भारत की है। अगले 8 सालों में भारत दुनिया का सबसे ज्यादा आबादी वाला देश बन जाएगा। यह दिन मनाने का मुख्य उद्देश्य लोगों को बढ़ती जनसंख्या के दुष्प्रभावों के प्रति जागरूक करना है। इस दिन विभिन्न कार्यक्रमों द्वारा जनसंख्या को नियंत्रित करने के उपायों के बारे में बताया जाता है। जनसंख्या बढ़ने की कई वजहों में गरीबी और अशिक्षा भी है। रूढ़िवादी समाज में लड़के की चाह में ज्यादा बच्चे, परिवार नियोजन न होना, गर्भ निरोधक की जानकारी न होना जैसी समस्याएं हैं। इन के प्रति जागरूक होना अति आवश्यक है।

यह भी पढ़ें: अगले 8 साल में सबसे ज्यादा आबादी वाला देश होगा भारत, 2050 तक इतनी होगी देश की जनसंख्या

विश्व जनसंख्या दिवस 2019: थीम

हर साल विश्व जनसंख्या दिवस संयुक्त राष्ट्र परिषद द्वारा एक थीम तय की जाती है। पिछले वर्ष की थीम ‘परिवार नियोजन’ (Family Planning) थी, लेकिन 2019 में थीम नहीं तय की गई है। जनसंख्या और विकास पर 1994 के अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन के अधूरे कारोबार पर ध्यान देने पर गौर किया गया है।


1989 से हर साल इस दिवस पर कई संगठन, संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष (UNFPA), सरकारी, गैर-सरकारी संगठन विभिन्न कार्यक्रमों और कई शैक्षणिक गतिविधियों का आयोजन कर लोगों को इस के प्रति जागरूक करते हैं।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)