केजरीवाल की सराहना को लेकर मिलिंद देवड़ा की आलोचना

नई दिल्ली, 17 फरवरी (आईएएनएस)| मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष मिलिंद देवड़ा को अरविंद केजरीवाल की सराहना करने के लिए अपने पार्टी सहयोगियों की आलोचना का सामना करना पड़ा है। देवड़ा ने कहा था कि दिल्ली के मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय राजधानी के राजस्व को दोगुना कर दिया है। मिलिंद देवड़ा ने ट्विटर पर लिखा, “स्वागत योग्य तथ्य साझा कर रहा हूं, जिसे कम लोग जानते हैं। अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार ने राज्य के राजस्व को दोगुना बढ़ाकर 60,000 करोड़ रुपये कर दिया है और पिछले पांच वर्षों में अतिरिक्त राजस्व को बनाए रखा। सोचने का विषय है : दिल्ली अब देश के सबसे ज्यादा राज्य कर मितव्ययी सरकारों में से है।”

इस पर पहली प्रतिक्रिया अजय माकन की ओर से आई, जिन्होंने देवड़ा को जवाब देते हुए लिखा, “भाई, आप कांग्रेस को छोड़ना चाहते हैं तो जाइए। उसके बाद आधे-अधूरे तथ्य प्रसारित कीजिए।”


अजय माकन ने फिर 1997-98 के राजस्व आय व उसके बाद की तुलना की। कांग्रेस के 2013-14 अनुमानित बजट (राजस्व) 37,459 करोड़ रुपये, जो 14.87 फीसदी बढ़ा। उन्होंने कहा कि यह 2019-20 में कम होकर 60,000 करोड़ रुपये रहा, इसमें सिर्फ 9.90 फीसदी की वृद्धि हुई।

सिर्फ माकन ने ही नहीं, चांदनी चौक की पूर्व विधायक अलका लांबा ने भी राहुल गांधी के करीबी माने जाने वाले देवड़ा पर हमला किया।

उन्होंने कहा, “पिता के नाम पर कांग्रेस में शामिल हुए, राजनीतिक वंश होने की वजह से टिकट मिला और पार्टी का नेतृत्व करते हुए चुनाव हार गए। लेकिन जब पार्टी के लिए लड़ने का समय हो, तो गिटार बजाएं।”


लांबा ने यह स्पष्ट तौर पर देवड़ा के लिए कहा।

 

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)