क्रेडिट लिमिट में लिंग भेद पर एप्पल कार्ड जांच के घेरे में

न्यूयॉर्क, 10 नवंबर (आईएएनएस)| न्यूयॉर्क डिपार्टमेंट ऑफ फाइनेंशियल सर्विसेज ने एप्पल कार्ड के जारीकर्ता गोल्डमैन सैच्स के खिलाफ लगे क्रेडिट लिमिट निर्धारित करने में लिंग भेद करने के आरोपों की जांच शुरू की है। उद्यमी डेविड हीनेमीयर हैनसन (डीएचएच) द्वारा एप्पल कार्ड पर किए गए लगातार कई ट्वीट्स के बाद एप्पल कार्ड की क्रेडिट लिमिट तय करने में उपयोग की गई गणना (एल्गोरिद्म) की जांच शुरू की गई।

हैनसन ने ट्वीट किया, “एप्पल कार्ड बहुत ही लिंगभेद करने वाला (सेक्सिस्ट) प्रोग्राम है। मेरी पत्नी और मैंने जॉइंट टैक्स रिटर्न के लिए आवेदन किया था। हम एक सामुदायिक-संपत्ति में रहते हैं और हमारी शादी को बहुत समय हो गया है। फिर भी एप्पल के ब्लैक बॉक्स एल्गोरिद्म को लगता है कि मैं अपनी पत्नी के क्रेडिट लिमिट्स के 20 गुना के योग्य हूं। अपील पर कोई फायदा नहीं।”


इसके बाद दूसरी शिकायत एप्पल के सह-संस्थापक स्टीव वोज्नियाक ने की।

उन्होंने कहा, “हमारे साथ भी यही हुआ। मुझे 10 गुनी क्रेडिट लिमिट मिला। हमारा अलग बैंक या क्रेडिट कार्ड अकाउंट या अलग-अलग संपत्ति नहीं है। किसी व्यक्ति से संपर्क नहीं कर सका।”

मार्केट वाच की रिपोर्ट के अनुसार, न्यूयॉर्क डिपार्टमेंट ऑफ फाइनेंशियल सर्विसेज ने शनिवार को पुष्टि करते हुए कहा कि वह एप्पल कार्ड की जांच करेगा।


एप्पल ने हालांकि इस पर कोई बयान नहीं दिया है, लेकिन मीडिया ने गोल्डमैन सैच्स के प्रवक्ता के बयान के हवाले से कहा, “हम क्रेडिट पर निर्णय ग्राहक की साख के आधार पर तय करते हैं ना कि लिंग, रंग, आयु, लैंगिक पहचान या किसी कानून द्वारा प्रतिबंधित किसी अन्य तथ्य के आधार पर।”

 

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)

You May Like