मंदिर बनाने में सभी योगदान देंगे, ऐसी अपेक्षा : भाजपा महासचिव

 नई दिल्ली, 9 नवंबर, (आईएएनएस)| भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने अयोध्या विवाद में शनिवार को आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले को ऐतिहासिक बताते हुए इसका स्वागत किया, और कहा कि सभी लोग संयम एवं धैर्य रखकर अब मंदिर के निर्माण में योगदान देंगे, ऐसी उन्हें अपेक्षा है।

 भाजपा महासचिव अरुण सिंह ने आईएएनएस से कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने तीन तरह के प्रमाणों के आधार पर फैसला दिया है। उन्होंने कहा, “जो पुरातत्व सर्वेक्षण की रिपोर्ट आई, सुप्रीम कोर्ट ने उस तथ्य को ध्यान में रखा। साथ ही जो विदेशी यात्री भी आए, उन्होंने भी जो कुछ लिखा, इसके अलावा ग्रंथों में भी जो प्रभु श्री राम के जन्म के बारे में लिखा गया है, उन सभी तथ्यों के आधार पर यह फैसला दिया गया है।”


अरुण सिंह ने कहा, “तीनों प्रकार के तथ्यों को सुप्रीम कोर्ट ने प्रमाण के तौर पर माना, जिसके आधार पर सर्वसम्मति से दिया गया यह ऐतिहासिक फैसला है।”

भाजपा महासचिव ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सभी लोग संयम और धैर्य रखकर मंदिर के निर्माण में योगदान करेंगे, ऐसी हमें अपेक्षा है।

उल्लेखनीय है कि प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ ने अयोध्या में विवादित जमीन पर फैसला मंदिर के पक्ष में दिया। केंद्र सरकार को तीन महीने के भीतर एक ट्रस्ट बनाने का निर्देश दिया गया है, जिसे विवादित जमीन सौंपी जाएगी और ट्रस्ट के दौरा ही मंदिर का निर्माण किया जाएगा। इसके अलावा अदालत ने अयोध्या में मस्जिद के लिए पांच एकड़ जमीन अलग से सुन्नी वक्फ बोर्ड को देने का निर्देश दिया।


(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)

You May Like