उप्र पुलिस सीट बेल्ट को लेकर लोगों को कर रही जागरूक

 लखनऊ, 16 अगस्त (आईएएनएस)| उत्तर प्रदेश पुलिस अब चौपहिया वाहनों में सीट बेल्ट के उपयोग को बढ़ावा देने के और सुरक्षा के लिए इसकी जरूरत को रेखांकित करने के लिए नए तरीके ईजाद कर रही है।

  एक पुलिसकर्मी ने नई मशीन की मदद से यह बताया कि कैसे सीट बेल्ट न लगाने के परिणाम भयावह हो सकते हैं।


मशीन में एक स्लाइड है, जिसमें दो सीटें होती हैं – एक वाहन चालक के लिए और दूसरी डमी के लिए। वाहन चालक सीट बेल्ट लगाता है, जबकि डमी ऐसा नहीं करता है। जैसे ही स्लाइड एक निर्धारित गति से नीचे आती है और एक स्टॉप से टकराती है, तो सीट बेल्ट पहने वाहन चालक सुरक्षित रहता है, लेकिन डमी गिर जाता है।

इस मशीन के जरिए यह दिखाया गया कि किस तरह वाहन जब अचानक से रुकती है तो उससे मिला एक झटका व्यक्ति को सीट बेल्ट न लगाने पर सीट से बाहर फेंक सकता है।

उत्तर प्रदेश पुलिस विभिन्न जिलों में इस वीडियो के जरिए लोगों को सीट बेल्ट के महत्व के प्रति जागरूक कर रहे हैं।


इसके अलावा कानपुर में वीडियो के इस वर्जन को और लंबा बनाया गया है, जिसमें यह भी दिखाया गया है कि किस तरह लोग सीट बेल्ट न लगाने के कैसे-कैसे बहाने बनाते हैं।

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)