बीमार शरीफ के हफ्तेभर बाद स्वस्थ होने की उम्मीद

लाहौर, 24 अक्टूबर (आईएएनएस)| पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का इलाज कर रहे मेडिकल बोर्ड ने गुरुवार को कहा कि पीएमएल-एन के प्रमुख एक्यूट इम्यून थ्रोम्बोसाइटोपेनिक परप्यूरा (आईटीपी) से जूझ रहे हैं और उन्हें स्वस्थ होने में सप्ताह भर का समय लगेगा। एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रपटों के मुताबिक, एक डॉक्टर ने कहा कि बीमारी की पुष्टि होने के बाद इलाज शुरू हो चुका है।

उन्होंने कहा कि इस बीमारी का पाकिस्तान में इलाज संभव है और नसों के माध्यम (इंट्रावेनस) से इलाज शुरू हो गया है।


डॉक्टर ने कहा, “उन्हें अनिकासी अरक्तता (अप्लास्टिक एनेमिया) नहीं है और उनका डब्ल्यूबीसी काउंट भी सामान्य है। हालांकि प्लेटलेट्स जरूर कम है।”

उन्होंने कहा कि शरीफ का बॉनमैरो भी सामान्य रूप से काम कर रहा है और रक्त का निर्माण कर रहा है।

इससे पहले गुरुवार को, पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के अध्यक्ष शहबाज शरीफ ने इस्लामाबाद उच्च न्यायालय में एक याचिका दायर कर मेडिकल आधार पर अपने भाई की जमानत के लिए अर्जी दाखिल की थी।


पीएमएल-एन प्रमुख को देर रात सोमवार को प्लेटलेट्स काउंट कम होने के बाद राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो(एनएबी) के लाहौर कार्यालय से सर्विस अस्पताल ले जाया गया था।

सरकारी अधिकारियों और उनके पार्टी नेताओं ने अगले दिन मंगलवार को मीडिया को बताया कि इलाज के बाद उनकी हालत स्थिर है।

हालांकि बुधवार को उनका प्लेटलेट्स एकबार फिर घटकर 7,000 के खतरनाक स्तर तक पहुंच गया था।

पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री यास्मीन राशिद ने अस्पताल में उनसे मुलाकात की और एक प्रेस वार्ता में दावा किया कि ‘नवाज इलाज से संतुष्ट हैं।’

 

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)

You May Like