इटली ने एलजीबीटीआई के अधिकारों के लिए दोहराई अपनी प्रतिबद्धता

इटली ने लैंगिक झुकाव और लैंगिग आधार पर सहित सभी प्रकार के भेदभाव के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर जंग लड़ने की अपनी प्रतिबद्धता दोहराई है। विदेश मंत्रालय ने यह बयान दिया।

अंतर्राष्ट्रीय होमोफोबिया, ट्रांसफोबिया और बाईफोबिया विरोध दिवस के मौके पर शुक्रवार को मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “पिछले कुछ सालों में उल्लेखनीय प्रगति के बावजूद, दुनियाभर में एलजीबीटीआई समुदाय अभी भी भेदभाव और हिंसा का सामना कर रहा है, और कई कानून समान लिंग के दो वयस्कों के बीच संबंधों को अपराध की श्रेणी में रखते हैं।”


बयान के अनुसार, यूरोपीय संघ के अन्य देशों के साथ इटली एलजीबीटीआई अधिकारों की रक्षा करने और उन्हें बढ़ावा देने वाली विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय मुहिमों का समर्थन करता है।

बयान में कहा गया, “दुनियाभर में इन मुहिमों के तहत इस मुद्दे पर काम कर रहे सिविल सोसायटी संगठनों और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की भूमिका बढ़ाई जा रही है।”

इटली ‘एलजीबीटीआई कोर ग्रुप’ में सक्रिय है जो संयुक्त राष्ट्र और ‘इक्वल राइट्स कॉलीजन’ में लैंगिक झुकाव के आधार पर भेदभाव के खिलाफ लड़ाई करने वाले देशों और संगठनों को एक करता है। ‘इक्वल राइट्स कॉलीजन’ एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जो इस मुद्दे पर अच्छे कार्यो को और जानकारियों को साझा करता है।


(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)