आज की बड़ी खबरें: एटलस साइकिल कंपनी की मालकिन नताशा कपूर ने की खुदकुशी

  • Follow Newsd Hindi On  
12 अप्रैल 2020: आज की बड़ी खबरें | 12 April Breaking News

देश-दुनिया की राजनीति, खेल एवं मनोरंजन जगत से जुड़े समाचार के लिए जुड़े रहें:

LIVE Updates:


11:41 AM: चार सप्ताह बाद अंतरिम आदेश- SC

नागरिकता कानून के खिलाफ याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम चार सप्ताह बाद ही याचिकाकर्ताओं को राहत देने के लिए कोई अंतरिम आदेश जारी करेंगे।


11:36 AM: केंद्र को 4 सप्ताह का वक्त

CAA की वैधता को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर जवाब के लिए सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को 4 सप्ताह का वक्त दिया है।



11:20 AM: अब और याचिका दायर करने की मंजूरी नहीं दें: अटार्नी जरनल

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने कहा कि हम सरकार से कुछ अस्थायी परमिट जारी करने के लिए कह सकते हैं। इसके बाद अटार्नी जरनल ने अदालत से कहा कोर्ट में 140 याचिकाएं दायर हैं। कोर्ट अब और पिटिशन दाखिल करने की इजाजत नहीं दे। अन्य जो सुनवाई की इच्छा रखते हैं, वे इंटरवेंशन एप्लीकेशन दाखिल कर सकते हैं।


11:17 AM: संवैधानिक पीठ के पास जा सकता है CAA का मामला- सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सीएए की संवैधानिक वैधता तय करने के लिए वह अपीलों को वृहद संविधान पीठ के पास भेज सकता है।


11:15 AM: केंद्र का पक्ष जाने बगैर CAA पर नहीं लगेगी रोक- सुप्रीम कोर्ट

नागरिकता कानून को लेकर याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि केंद्र को बिना सुने हम CAA पर रोक नहीं लगाएंगे।


11:00 AM: सुप्रीम कोर्ट में CAA से जुड़ी 144 याचिकाओं पर सुनवाई शुरू

CAA को चुनौती देने वाली 140 से अधिक याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू हो गई है।


09:25 AM: दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट में CAA से जुड़ी 144 याचिकाओं पर सुनवाई आज

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट बुधवार को सुनवाई करेगा। CJI एसए बोबडे, जस्टिस संजीव खन्ना और जस्टिस एस अब्दुल नज़ीर की बेंच सुनवाई करेगी। CAA को लेकर कुल याचिकाओं की संख्या 144 हो चुकी है।


08:33 AM: महाराष्ट्र: 26 जनवरी से सभी स्कूलों में संविधान की प्रस्तावना पढ़ना हुआ अनिवार्य


08:00 AM: झारखंड: पत्थलगड़ी आंदोलन का विरोध करने पर 7 लोगों की हत्या

झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम जिले के गुदड़ी थाना के बुरुगुलीकेरा गांव में सात लोगों की हत्या कर दी गई है। आरोप है कि पत्थलगड़ी आंदोलन के समर्थकों ने पत्थलगड़ी का विरोध करने पर पर इनलोगों का पहले अपहरण किया और फिर जंगल में ले जाकर इनकी बेरहमी से हत्या कर दी।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)