महाराष्ट्र के तट से दोपहर तक टकरा सकता है चक्रवात निसर्ग

मुंबई। वर्तमान में चक्रवात निसर्ग महाराष्ट्र में मुंबई के दक्षिण-पश्चिम से लगभग 190 किलोमीटर दूर मंडरा रहा है और बुधवार दोपहर को इसके रायगढ़ जिले से सटे हरिहरेश्वर के पास टकराने की आशंका है।

पुलिस, फायर ब्रिगेड, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ, सेना, नौसेना, वायुसेना, कोस्ट-गार्ड, होम-गार्ड और अन्य सभी आपातकालीन सेवाएं चक्रवात के मद्देनजर अलर्ट पर होने के साथ ही पूरी तरह से तैयार हैं। वहीं, एहतियात के तौर पर घरेलू उड़ान परिचालन को कम कर दिया गया है।


भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) मुंबई ने कहा, “उम्मीद के अनुसार, चक्रवात अगले छह घंटों में 110 से 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाओं के साथ रायगढ़ में टकराएगा।”

आईएमडी ने कहा, “इसके एक गंभीर चक्रवाती तूफान में तेज होने की संभावना है। इसका प्रभाव पूरे कोंकण तटीय क्षेत्र और पश्चिमी महाराष्ट्र के आसपास के जिलों में अनुभव किया जा सकेगा।”

वर्तमान में निसर्ग धीरे-धीरे जमीन की ओर बढ़ रहा है और इसे मुंबई व गोवा में डॉपलर वेदर रडार द्वारा ट्रैक किया जा रहा है।


वहीं, मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड ने बुधवार को घोषणा कर कहा कि चक्रवात के मद्देनजर वह नियमित 50 उड़ानों के बजाय 11 आउटगोइंग सहित केवल 19 उड़ानें संचालित करेगा।

अनुसूची में अंतिम-मिनट में संभावित बदलाव के अधीन एयर इंडिया, एयरएशिया, इंडिगो, गोएयर और स्पाइसजेट द्वारा उड़ानों का संचालन किया जाएगा।

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)