NEET JEE Main 2020: नीट और जेईई परीक्षा कैंसिल करने की याचिका खारिज, SC ने कहा- सब रोक कर साल यूं ही बर्बाद होने दें?

  • Follow Newsd Hindi On  
Hearing in Supreme Court today on plea for deferment of NEET JEE Main 2020 exam

NEET JEE Main 2020: सुप्रीम कोर्ट मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन को स्थगित करने की मांग वाली याचिका खारिज कर दी है। याचिका में कोरोना के तेजी से बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सिंतबर में प्रस्तावित जेईई मेन और नीट यूजी परीक्षाओं को टालने की मांग की गई थी।

दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि क्या देश में सब कुछ रोक दिया जाए? एक कीमती साल को यूं ही बर्बाद हो जाने दिया जाए? याचिकाकर्ता के वकील ने स्वास्थ्य को खतरे का हवाला दिया। लेकिन कोर्ट ने याचिका खारिज की और कहा, सुनवाई की ज़रूरत नहीं समझते। एनटीए के लिए पेश हुए सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि परीक्षा करवाना ज़रूरी है।


इस मामले की सुनावाई जस्टिस अरुण मिश्रा की अगुवाई वाली सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने सुनवाई की। जेईई परीक्षा 1 सितंबर से 6 सितंबर तक आयोजित की जाएगी, वहीं नीट परीक्षा 13 सितंबर को आयोजित की जाएगी। 20 लाख से ज्यादा छात्रों ने इस परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया है।

अगर परीक्षा आयोजित कराई जाती है तो एनटीए जेईई मेन्स 2020 का एडमिट कार्ड आधिकारिक वेबसाइट – jeemain.nta.nic.in – पर जारी करेगा। हालांकि अभी तक एडमिट कार्ड रिलीज नहीं किया गया है। कुछ लोगों का यह भी मानना है कि चूंकि सुप्रीम कोर्ट में केस चल रहा है इसलिए एडमिट कार्ड रिलीज नहीं किया गया है।

11 राज्यों के छात्रों ने देश में तेजी से बढ़ रहे कोविड-19 महामारी के मामलों की संख्या के मद्देनजर जेईई मेन और नीट यूजी परीक्षाएं स्थगित करने के अनुरोध के साथ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। याचिका में कोरोना महामारी का जिक्र करते हुए एनटीए का तीन जुलाई को जारी किया गया नोटिस रद्द करने का अनुरोध किया गया है।


इन नोटिस के माध्यम से ही एनटीए ने संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) मुख्य, अप्रैल, 2020 और राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट-यूजी) सितंबर में कराने का निर्णय लिया है। याचिका में प्राधिकारियों को सामान्य स्थिति बहाल होने के बाद ही इन परीक्षाओं को आयोजित करने का निर्देश देने का अनुरोध किया गया है।

पिछले कुछ समय से जेईई मेन व नीट अभ्यर्थी सोशल मीडिया पर लगातार परीक्षा कराने के खिलाफ अभियान चला रहे हैं।#postponeNEETandJEE के साथ केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखिरियाल निशंक ( @DrRPNishank ), एनटीए (  @DG_NTA ) और मानव संसाधन विकास मंत्रालय को टैग करते हुए परीक्षा को टालने की मांग कर रहे हैं।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)