तमिलनाडु: 14 सफाईकर्मी की पोस्ट पर भर्ती, इंजीनियर और MBA डिग्री वालों ने भी किया अप्‍लाई

देश में नौकरियों के तमाम दावों के बावजुद कभी-कभी ऐसी तस्वीरें सामने आती हैं जो सरकारी दावे को खारिज कर देते हैं। एक ऐसा ही मामला सामने आया है तमिलनाडु से। देश में बेरोजगारी का आलम इस कदर है कि सफाई कर्मचारी की वैकेंसी निकलने पर बड़ी-बड़ी योग्यता रखने वाले आवेदकों की भीड़ लग जाती है। तमिलनाडु विधानसभा सचिवालय में स्वीपर का काम और सैनिटरी कर्मचारियों के पद की दौड़ में एम.टेक, बी.टेक और एमबीए, पोस्ट ग्रेजुएट और ग्रेजुएट के साथ ही कई पेशेवर योग्यता रखने वाले लोग भी शामिल हैं।

तमिलनाडु विधानसभा सचिवालय में स्वीपर के लिए 10 और स्वच्छता कर्मचारी के लिए 4 वैकेंसी हैं। 26 सितंबर को विधानसभा सचिवालय ने इन पदों के लिए आवदकों से आवेदन मंगाए। कुल 14 सफाई कर्मचारी के पद के लिए कई डिप्लोमाधारक फाइट कर रहे हैं और सभी इस नौकरी के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रहे हैं।


इस पोस्ट के लिए एक मात्र योग्यता सिर्फ यह मांगी गई है कि इच्छुक अभ्यर्थी को हृष्ट पुष्ट होना होगा यानी पूरी तरह से स्वस्थ होना होगा। इस पोस्ट के लिए आयु सीमा 18 साल है, उससे ऊपर की सीमा निर्धारित नहीं है।

अब तक इन दो पदों के लिए 4,607 आवेदन आ चुके हैं, इनमें रोजगार कार्यालय से भी शामिल हैं। इनमें से 677 आवेदकों को खारिज कर दिया गया, जबकि शेष ने योग्यता मानदंड को पूरा किया है।

बेरोजगारी ने तोड़ा 45 साल का रिकॉर्ड, नेशनल सैंपल सर्वे ऑफिस(NSSO) ने जारी किए आंकड़े


देश में बेरोजगारी बढ़ने का आंकड़ा आया तो राहुल गांधी ने पूछा- हाउ इज़ द जॉब्स?

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)