बिहार: आकाशीय बिजली गिरने से 13 की मौत, परिजनों को 4-4 लाख मुआवजा देगी राज्य सरकार

to lightning strikes

पटना | बिहार के कई जिलों में पिछले 24 घंटे के दौरान हुई बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई है जबकि कई लोग गंभीर रूप से जख्मी भी हो गए हैं। बिहार राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि मंगलवार को दोपहर के बाद राज्य के अधिकांश क्षेत्रों में तेज हवा के साथ झमाझम बारिश हुई। इस बीच कई इलाकों में आकाशीय बिजली गिरने से कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई है। विभाग का कहना है कि इन आंकड़ों में और वृद्घि होने की संभावना है।

विभाग के मुताबिक, कैमूर और गया जिले के विभिन्न क्षेत्रों में आकाशीय बिजली गिरने से तीन-तीन लोगों की मौत हो गई है जबकि भोजपुर, पूर्वी चंपारण और मुजफ्फरपुर में दो-दो और कटिहार में एक व्यक्ति को आकाशीय बिजली में जान गंवानी पड़ी।


राज्य सरकार ने वज्रपात से हुई मौत के बाद मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है। आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि सरकार ऐसे संकट काल में मृतकों के परिजनों के साथ खड़ी है।

इधर, राजधानी पटना में मंगलवार की रात पुलिस लाइन में एक विशाल पेड़ गिर जाने से नौ पुलिसकर्मी बुरी तरह से घायल हो गए हैं। घटना के बाद पुलिस लाइन में अफरातफरी मच गई है। आनन-फानन में घायलों को पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल (पीएमसीएच) में भर्ती कराया गया। घायलों में से दो की हालत गंभीर बताई जा रही है।

इधर, पुलिस महरनिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय भी पुलिस लाइन पहुंचे और हालात का जायजा लिया तथा घायल जवानों का हाल जाना।



अब बिहार में पैर पसारने की तैयारी में असदुद्दीन ओवैसी, सभी विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी AIMIM

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)