संसद में BJP के निशिकांत दुबे बोले- GDP को रामायण-महाभारत मान लेना सत्य नहीं, भविष्य में इसका कोई उपयोग नहीं

संसद में BJP के निशिकांत दुबे बोले- GDP को रामायण-महाभारत मान लेना सत्य नहीं, भविष्य में इसका कोई उपयोग नहीं

GDP के जारी ताजा आंकड़ों के बाद केंद्र सरकार की मुश्किलें बढ़ गई हैं। लोकसभा में आज GDP और अर्थव्यवस्था की मौजूदा हालत पर बहस के दौरान सरकार का बचाव करते हुए झारखंड के गोड्डा से भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने अजीब तरह का तर्क दे दिया। भाजपा सांसद ने कहा कि GDP को ही सबकुछ नहीं मान लेना चाहिए।

क्या कहा निशिकांत दुबे ने

निशिकांत दुबे ने कहा, “GDP 1934 में आया, इससे पहले कोई GDP नहीं था। केवल GDP को बाइबिल, रामायण या महाभारत मान लेना सत्य नहीं है और भविष्य में GDP का कोई बहुत ज्यादा उपयोग भी नहीं होगा।”



निशिकांत दुबे ने यह बयान लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी के GDP और अर्थव्यवस्था पर सवाल खड़ा करने के बाद दिया। गौरतलब है कि सुस्‍ती के दौर से गुजर रही भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था को बड़ा झटका लगा है। दरअसल, चालू वित्त वर्ष (2019-20) की दूसरी तिमाही में भारत की विकास दर में बड़ी गिरावट आई है। अब जीडीपी ग्रोथ का आंकड़ा 4.5 फीसदी पहुंच गया है। यह करीब 6 साल में किसी एक तिमाही की सबसे बड़ी गिरावट है।

इससे पहले मार्च 2013 तिमाही में देश की जीडीपी दर इस स्‍तर पर थी। बता दें कि चालू वित्त वर्ष (2019-20) की पहली तिमाही में जीडीपी ग्रोथ की दर 5 फीसदी पर थी। इस लिहाज से सिर्फ 3 महीने के भीतर जीडीपी की दर में 0.5 फीसदी की गिरावट आई है।

GDP पर कांग्रेस ने सरकार को घेरा

लोकसभा में आज भी कांग्रेस GDP के खराब आंकड़ों पर सरकार पर हमलावर रही। कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को निशाने पर लेते हुए कहा कि मोदी सरकार अभी भी अर्थव्यवस्था की हकीकत को समझने को तैयार नहीं है। अधीर रंजन ने वित्तमंत्री को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से सलाह लेने का सुझाव भी दे डाला।


मनमोहन सिंह बोले- देश की अर्थव्यवस्था की हालत गंभीर, विपक्षी नेता नहीं, अर्थशास्त्र के छात्र के तौर पर कह रहा हूं

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)