HBSE Haryana Board 10th Result 2020 : दसवीं का परीक्षा परिणाम 8 जून को किया जाएगा घोषित

tbse 10th result live, tripura board 10th result 2020 live, tripura board madhyamik result 2020 live, tbse tripura board 10th result 2020 live update, tbse.in, tripuraresults.nic.in, tbse, tbse result 2020, tbse madhyamik result 2020, madhyamik result 2020, tripura madhyamik result 2020, tripura result.nic.in 2020, tripura board of secondary education result 2019, tripura result 2020, tripura 10th result 2020, tripura madhyamik result 2020 date, tripura board of secondary education result 2020, tripura board result 2020, tbse madhyamik result, tbse 10th result 2020, tripura board 10th result 2020

HBSE Haryana Board 10th Result 2020: हरियाणा शिक्षा बोर्ड ने दसवीं के परिणाम व परीक्षा को लेकर चल रही तमाम अफवाहों पर विराम लगा दिया है। हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने बुधवार को बताया कि दसवीं कक्षा के परीक्षा परिणाम 8 जून को घोषित किए जाएंगे।

दसवीं की कारोना वायरस संक्रमण से पहले मुख्य चार विषयों की परीक्षा हुई थी। उसके बाद 19 मार्च को शिक्षा बोर्ड ने परीक्षाएं रद्द कर दी थी। विज्ञान विषय की परीक्षा नहीं हो पाई थी। अब वे केवल चार विषयों की परीक्षा में परीक्षार्थी को अंक आएंगे।


अब उन अंकों का औसत निकाला जाएगा और उसके बाद पांचवे विषय के चार विषयों के औसत अंकों के हिसाब से अंक मानकर रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा। साथ ही उन्होंने स्पष्ट किया कि जो विद्यार्थी 11 वीं कक्षा में विज्ञान संकाय में दाखिला लेगा, उस विद्यार्थी को दाखिला लेने के बाद दसवीं के विज्ञान विषय की परीक्षा देनी होगी।

इसके साथ ही हरियाणा में स्कूल खोलने की कवायद तेज हो गई है। सरकार तीन चरणों में स्कूलों को खोलेगी। स्कूल खोलने से पहले डेमो कक्षाएं चलाई जाएंगी। शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने यह जानकारी दी है।

HBSE, Haryana Board Results: जुर्माना नहीं भरा तो हरियाणा बोर्ड रोक देगा इन स्कूलों के रिजल्ट

कंवर पाल गुर्जर ने कहा कि 10वीं, 11वीं, 12वीं कक्षाएं सबसे पहले शुरू की जाएंगी। छठी से नौवीं कक्षा उसके बाद शुरू करेंगे। सबसे अंत में पहली से पांचवी तक की कक्षाएं शुरू करने का विचार है।


इन बातों पर भी विचार किया जा रहा है कि आधे बच्चे एक दिन बुलाए जाएंगे और आधे बच्चे अगले दिन। दूसरा विचार यह है कि आधे बच्चों को सुबह के टाइम बुलाया जाए व आधे बच्चों को शाम के समय में। जिला स्तर पर कमेटियां बनाकर अभी सुझाव लिए जा रहे हैं।

मान लीजिए, एक कक्षा में 30 छात्र हैं, तो केवल 15 छात्रों को डेमो के तहत कक्षाओं में भाग लेने के लिए बुलाया जा सकता है। इसके बाद बाकी बचे 15 छात्रों को अगले दिन स्कूल बुलाया जा सकता है। हरियाणा में इस साल के सत्र के लिए कोई शीतकालीन अवकाश नहीं होगा। 

कक्षा 12 वीं के बारे में बात करते हुए, मंत्री कंवर ने कहा, “बारहवीं कक्षा की कुछ बोर्ड परीक्षाएं अभी भी लंबित हैं जिन्हें जुलाई में सम्पन्न कराया जाएगा। बारहवीं कक्षा के परिणाम बोर्ड परीक्षाओं के पूरा होने के बाद ही घोषित किए जाएंगे।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)