इंदौर लोकसभा सीट: सुमित्रा महाजन के बाद भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का भी चुनाव लड़ने से इंकार

इंदौर लोकसभा सीट: सुमित्रा महाजन के बाद भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का भी चुनाव लड़ने से इंकार

भोपाल | आगामी लोकसभा चुनाव में इंदौर संसदीय क्षेत्र से सशक्त दावेदार माने जा रहे भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने लोकसभा चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया है।

कैलाश विजयवर्गीय ने बुधवार को ट्वीट कर कहा, “इंदौर की जनता, कार्यकर्ता व देशभर के शुभचिंतकों की ईच्छा है कि मैं एलएस (लोकसभा) चुनाव लड़ूं, पर हम सभी की प्राथमिकता समर्थ+समृद्घ भारत के लिए नरेंद्र मोदी को पुन: पीएम बनाना है।”


“पश्चिम बंगाल की जनता मोदी के साथ खड़ी है, मेरा बंगाल में रहना कर्तव्य है, अत: मैंने चुनाव न लड़ने का निर्णय लिया है।”

विजयवर्गीय ने आगे लिखा, “आशा है कि आप भी देश हित एवं पार्टी हित के मेरे निर्णय से सहमत होंगे व पार्टी जिन्हें भी प्रत्याशी बनाएगी, उनकी जीत के लिए, जी जान से जुट जाएंगे। मेरी न सिर्फ इंदौर बल्कि पूरे देश के मतदाताओं से विनती है कि एनडीए जैसी मजबूत सरकार एवं मोदीजी जैसे मजबूत पीएम के लिए मतदान करें। यही विनय।”

एक अन्य ट्वीट में विजयवर्गीय ने लिखा, “भाजपा के प्रत्येक कार्यकर्ता का सिद्घांत है, नेशन फर्स्ट-पार्टी सेकेंड-सेल्फ लास्ट। जहां सवाल देश हित और पार्टी हित का हो वहां स्वयं का कोई महत्व नहीं रह जाता। हमारे सामने पश्चिम बंगाल में पार्टी को अधिकाधिक सीटें जिताने का लक्ष्य है, यह लक्ष्य जितना बड़ा है उतनी ही बड़ी चुनौती भी है।”

ज्ञात हो कि, कांग्रेस ने इंदौर से पंकज संघवी को उम्मीदवार बनाया है, वहीं भाजपा अब तक अपने उम्मीदवार का चयन नहीं कर पाई है। बीते 8 चुनाव से लगातार जीतती आ रही सुमित्रा महाजन भी पार्टी के 75 वर्ष की आयु पार कर चुके लोगों को उम्मीदवार न बनाए जाने के फैसले को ध्यान में रखकर स्वयं ही चुनाव लड़ने से इंकार कर चुकी हैं।


इंदौर से सांसद रहीं सुमित्रा महाजन नहीं लड़ेंगी चुनाव, कहा- पार्टी में है असमंजस की स्थिति

(इस खबर को न्यूज्ड टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)