रेप आरोपी नित्यानंद बसा रहा है ‘कैलासा’ नामक एक नया आइलैंड देश, यूएन से मांगी मान्यता

रेप आरोपी बाबा नित्यानंद बसा रहा है 'कैलासा' नामक एक नया आइलैंड देश, यूएन से मांगी मान्यता

स्वयंभू बाबा स्वामी नित्यानंद (Swami Nithyananda) देश छोड़कर फरार हो चुका है। अब नित्यानंद के बारे में नई जानकारी निकल कर सामने आ रही है। नित्यानंद अपना एक अलग देश बसाने जा रहा है।  नित्यानंद के इस स्वघोषित देश का नाम ‘कैलासा ‘ होगा। यह दक्षिण अमेरिका के इक्वाडोर में एक निजी द्वीप पर बसाया जाएगा। यह द्वीप त्रिनिदाद और टोबैगो के करीब स्थित है और इसे नित्यानंद द्वारा संप्रभु हिंदू राष्ट्र घोषित किया गया है। नित्यानंद के इस नए देश कैलासा का अपना एक अलग झंडा, पासपोर्ट और प्रतीक भी होगा।

जानकारी के मुताबिक, नित्यानंद ने अमेरिका की एक प्रसिद्ध कानूनी सलाहकार कंपनी की मदद से संयुक्त राष्ट्र में एक याचिका दायर की है। इस याचिका में उसने अपने देश को मान्यता देने की अपील की है।


कैलासा की वेबसाइट के अनुसार, “यह बिना सीमाओं वाला एक राष्ट्र है, जिसे दुनिया भर के ऐसे हिंदुओं ने बनाया है जिन्होंने अपने ही देशों में प्रामाणिक रूप से हिंदू धर्म का अभ्यास करने का अधिकार खो दिया है।”

वेबसाइट पर आगे लिखा है, “कैलासा आंदोलन की शुरुआत संयुक्त राज्य अमेरिका में हुई है और हिंदू आदि शैव अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्यों द्वारा इसकी स्थापना की गई है, लेकिन यह दुनिया के सभी आकांक्षी या उत्पीड़ित हिंदुओं के लिए नस्ल, लिंग, संप्रदाय, जाति, या पंथ से इतर एक सुरक्षित पनाहगाह है, जहां वे शांति से रह सकते हैं और अपनी आध्यात्मिकता, कला और संस्कृति का किसी भी तरह की बदनामी, हस्तक्षेप और हिंसा के भय से मुक्त होकर अभ्यास कर सकते हैं।”

रिपोर्ट के मुताबिक, कैलासा की कानूनी टीम एक राष्ट्र के रूप में इसे मान्यता देने के लिए संयुक्त राष्ट्र के समक्ष दी गई एक याचिका पर काम कर रही है। याचिका में, नित्यानंद ने खुद को पीड़ित बताया है और दावा किया है कि भारत में उसका जीवन खतरे में है क्योंकि वह हिंदू धर्म का अभ्यास और प्रसार करना चाहता है।

बता दें, नित्‍यानंद पर अहमदाबाद (Ahmedabad) में अपना आश्रम चलाने के लिए बच्चों को कथित तौर पर अगवा करने और उन्हें बंधक बनाकर अनुयायियों से चंदा जुटाने के काम में लगाने का आरोप है। इसके अलावा पुलिस नित्यानंद के आश्रम से लापता हुई एक महिला के मामले में भी जांच कर रही है। गुजरात पुलिस के मुताबिक नित्यानंद कर्नाटक में अपने खिलाफ रेप का मामला दर्ज होने के बाद ही देश छोड़कर भाग गया था।


रंगीन मिजाज नित्यानंद आखिर कैसे पहुंचा दक्षिण अमेरिका?

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)