सुशील मोदी की मांग- प्रवासी बिहारियों को लाने के लिए स्पेशल ट्रेन चलाए केंद्र, बिहार सरकार ने नियुक्त किए 19 नोडल अफसर

सुशील मोदी की मांग- प्रवासी बिहारियों को लाने के लिए स्पेशल ट्रेन चलाए केंद्र, बिहार सरकार ने नियुक्त किए 19 नोडल अफसर

लॉकडाउन के बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय की घोषणा के बाद बिहार सरकार ने प्रवासी मजदूरों और छात्र-छात्राओं को लाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। बिहार सरकार ने दूसरे राज्यों में फंसे लोगों को लाने के लिए 19 नोडल अफसरों की तैनाती कर दी है। इनमें अधिकांश आईएएस और आईपीएस अधिकारी शामिल हैं। वहीं, डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने केंद्र सरकार से स्पेशल ट्रेन चलाए जाने की मांग की है।

गौरतलब है कि सुशील मोदी ने बुधवार को यह कहकर हाथ खड़े कर दिए थे कि बाहर फंसे लोगों को लाने के लिए बिहार के पास इतने संसाधन नहीं हैं। केंद्र सरकार ने बसों से फंसे लोगों को ले जाने को कहा था। इसमें भी सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना था। जब डिप्टी सीएम से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ट्रेन तो चल नहीं रहे हैं, ऐसे में बिहार के पास कहां इतना संसाधन है कि बाहर फंसे छात्र-छात्राओं या मजदूरों को लाया जा सके।


सुशील मोदी ने कहा कि दूसरे राज्यों की ही जिम्मेदारी बिहार भिजवाने की होगी। बाद में उन्होंने सफाई दी कि दोनों राज्य मिलकर इसपर विचार करेंगे। अब गुरूवार को उपमुख्यमंत्री मोदी ने ट्वीट कर केंद्र से स्पेशल ट्रेन चलाने की मांग की है ताकि बिहार से बहार फंसे छात्र-छात्राओं, मजदूर, पर्यटक, श्रद्धालु आदि को वहां से लाया जा सके।

डिप्टी सीएम ने कहा कि बसों में सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन कर बिहार के बाहर फंसे लोगों को लाना संभव नहीं हो पाएगा। ऐसे केंद्र सरकार को स्पेशल ट्रेन की व्यवस्था करनी होगी। उन्होंने ट्वीट कर स्पेशल ट्रेन चलाने की मांग भी की है। अब देखना है कि सुशील मोदी की मांग पर केंद्र क्या निर्णय लेता है।

19 वरीय अधिकारियों को बनाया गया नोडल अफसर

दूसरी ओर, बिहार सरकार ने भी तेजी दिखाई है और बिहार के बाहर विभिन्न राज्यों में फंसे लोगों को लाने के लिए 19 नोडल अफसरों की तैनाती कर दी है। अलग-अलग राज्यों की जिम्मेदारी अलग-अलग पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को दी गई है। जानकारी के मुताबिक केंद्र सरकार के फैसले के बाद बिहार सरकार ने आपदा प्रबंधन विभाग में 19 वरीय अधिकारियों को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है।

प्रवासी मजदूरों और बिहारियों को लाने के लिए बनाए गए नोडल अफसर

दिल्ली और हिमाचल प्रदेश- पलका सहनी और शैलेंद्र कुमार
जम्मू कश्मीर, लद्दाख-शैलेंद्र कुमार
पंजाब- मानवजीत सिंह ढिल्लो
हरियाणा- दिवेश सेहरा
राजस्थान- प्रेम सिंह मीणा
गुजरात- बी. कार्तिकेय
उत्तराखंड- विनोद सिंह गुंजियाल
उत्तर प्रदेश- विनोद सिंह गुंजियाल और अनिमेष पराशर
मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़- मयंक बरबड़े
उड़ीसा- अनिरुद्ध कुमार
झारखंड- चंद्रशेखर
पश्चिम बंगाल- किम
असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, त्रिपुरा, मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम- आनंद शर्मा
आंध्र प्रदेश और तेलंगाना- रामचंद्र टूडू
तमिलनाडु और पांडिचेरी- के.सेंथिल कुमार
कर्नाटक- प्रतिमा एस. वर्मा
महाराष्ट्र और गोवा- आदेश तितरमारे
केरल- सफीना एन


कोटा में फंसे बिहार के छात्रों को वापस लाने के लिए पप्पू यादव ने भेजी 30 बसें, नीतीश सरकार से कही ये बात

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)