दिल्ली : हॉस्पिटल में कितने बेड और वेंटिलेटर खाली, कोरोना ऐप से मिलेगी जानकारी

Kejriwal launches Delhi Corona App for information on vacant hospital beds and ventilators

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामलें काफी तेजी से बढ़ रहे है। इस बीच दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने दिल्ली कोरोना ऐप (Corona App) लॉन्च किया हैइस ऐप की मदद से लोगों तक हॉस्पिटल में उपलब्ध बेड और वेंटिलेटर की जानकारी पहुंचाई जाएगी।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने ऐप लांच करते हुए कहा, “दिल्ली में कोरोना के केस बढ़ रहे हैंहमने इतना इंतजाम किया हुआ है कि घर में अगर कोई बीमार होता है तो उसके लिए बेड ऑक्सीजन और आईसीयू का पूरा बंदोबस्त हो।


केजरीवाल ने कहा कि कोरोना की इन्फॉर्मेशन का जो गैप रहा है उसे ये ऐप उसे खत्म कर देगा। एक तरफ हमने आपके लिए इंतजाम किया हुआ है और मैं बता रहा हूं कि किसी चीज की कोई कमी नहीं है और दूसरी तरफ कई बार लोगों के फोन और मैसेज आते हैं कि वो दरदर भटक रहे हैं

केजरीवाल ने बताया कि आज दिल्ली के अस्पतालों में 6731 बेड हैं। जिनमें से लगभग 4100 बेड खाली पड़े हैं। इस इन्फॉर्मेशन गैप की वजह से हम ये ऐप लॉन्च कर रहे हैंऐप के बारे में जानकारी देते हुए केजरीवाल ने कहा, “लोगों को पता नहीं होता कि उनको किस अस्पताल में कहां बेड मिलेगा और कहां वेंटिलेटर

दिल्ली: AIIMS में दो मेडिकल स्टाफ कोरोना पॉजिटिव पाए गए, अस्पताल के 60 कर्मी होम क्वारंटाइन


इस एप को सुबह 10:00 बजे और शाम को 6:00 बजे अपडेट किया जाएगाये आपको सरकारी और प्राइवेट सभी अस्पतालों के बारे में बताएगा कि इस वक़्त किस अस्पताल में कितने बेड खाली हैं और कितने भरे हुए हैं। इसे डाउनलोड कर के लिए 1031 हेल्पलाइन पर फोन करेंगे तो आपको एसएमएस के जरिए लिंक भेज देंगे

इसके अलावा दिल्ली में कोरोना को लेकर दिल्ली सरकार की योजनाओं से जुड़ी जानकारी भी मिल जाएगी। वहीं बेड होने के बावजूद अगर अस्पताल किसी को एडमिट नहीं करते तो उसके खिलाफ कार्रवाई भी होगी। मुख्यमंत्री ने जानकारी देते हुए बताया, “अगर अस्पताल ने आप को एडमिशन देने से मना किया तो 1031 पर कॉल करें।

अगर कोई अस्पताल जांच करके यह कहता है कि आपको एडमिट होने की जरूरत नहीं आप घर में क्वारन्टीन हो सकते हैं तो उनकी बात माननी होगी। अगर कोई मरीज होम क्वारन्टीन में सीरियस हो जाते हैं तो आप अस्पताल में आ सकते हैं

दरअसल, पिछले काफी समय से दिल्ली के अस्पतालों में बेड की किल्लत की शिकायतें सामने आ रही थीं। सोशल मीडिया पर कई वीडियो भी वायरल हो रहे थे जिनमें लोग अस्पताल में बेड न होने की बात कह रहे थे। इसी के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने दिल्ली कोरोना एप को लॉन्च किया है।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)