बेटे ने PUBG गेम खेलने के लिए खर्च कर दिए 16 लाख रूपए, बैंक स्टेटमेंट देख उड़े मां-बाप के होश

  • Follow Newsd Hindi On  
Government of India banned these 47 new Chinese apps including PUBG and Ludo World

गेम खेलना भला किसे पसंद नहीं होगा लेकिन पंजाब (Punjab) में ऑनलाइन गेम का शौक एक बच्चे  को ऐसा चढ़ा कि उनसे अपने पिता के अकाउंट से 16 लाख रुपये उड़ा दिए। ऑनलाइन गेम की दुनिया में PUBG गेम के चक्कर में 17 साल के छात्र ने अपने पिता का बैंक अकाउंट (Bank account) पूरा खाली कर दिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गेम खेलने वाले बच्चे के पास तीन बैंक अकाउंट का ऐक्सिस था। इन अकाउंट्स का इस्तेमाल वह PUBG मोबाइल गेम (PUBG mobile game) में पैसा खर्च करने के लिए किया करता था। रिपोर्ट्स के मुताबिक यह राशि उसके पिता ने मेडिकल एक्सपेंशन के लिए बचा कर रखी थी।


एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बच्चे ने तीन बैंक अकाउंट का इस्तेमाल कर अपने पबजी मोबाइल अकाउंट को अपग्रेड करने के लिए किया। रिपोर्ट के मुताबिक किशोर ने अपने टीममेट्स के लिए भी इन-एप पर्चेज की है। परिवार को इसके बारे में बैंक अकाउंट स्टेटमेंट के जरिए पता चला। लेकिन जब तक उन्हें इस बारे में जानकारी हुई तब तक अकाउंट से 16 लाख रुपये उड़ चुके थे।

इस काम को अंजाम देने वाले बच्चे के पिता एक सरकारी कर्मचारी हैं। हालांकि किशोर के पिता नहीं चाहते थे कि उनका नाम रिपोर्ट में लिया जाए। ट्रिब्यून ने बताया कि 17 वर्षीय किशोर अपनी माता के साथ रहता है, जबकि उसके पिता की पोस्टिंग कहीं और है। किशोर ने सभी ट्रांजेक्शन के लिए अपनी मां का फोनभी इस्तेमाल किया है।

बच्चे को गेम खेलने का इतना तगड़ा चस्का चढ़ा था कि हर बार बच्चा अपनी  मां के फोन से डेबिट अमाउंट वाले मैसेज डिलीट कर देता था। वहीं बच्चे के माता पिता को लगता था कि वह फोन का ज्यादा इस्तेमाल ऑनलाइन पढ़ाई के लिए कर रहा है। जब तक मां-बाप को अपने बेटे की इस हरकत का पता लगा तब तक बहुत देर हो चुकी थी।


इस घटना के बाद बच्चे के पिता ने उसे एक रिपेयर शॉप में लगा दिया है, जिससे वह ज्यादा वक्त पबजी मोबाइल पर ना बिताए। बच्चे के पिता ने कहा, ‘मैं उसे सिर्फ घर पर बैठे नहीं दे सकता था और उसे फोन अब पढ़ाई के लिए भी नहीं दिया जाएगा। गेमिंग के शौक में लाखों का नुकसान करने का यह कोई पहला मामला नहीं हैं। इससे पहले भी कई बार ऐसी खबरें सुनने को मिल चुकी है।

(आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब भी कर सकते हैं.)